एम एस धोनी © Getty Images
एम एस धोनी © Getty Images

श्रीलंका के खिलाफ चौथे वनडे में उतरते ही एम एस धोनी ने एक बड़ा मुकाम हासिल कर लिया। धोनी ने अपने वनडे करियर में 300 मैच पूरे कर लिए। इस मौके पर उन्हें टीम इंडिया ने एक खास पेंटिंग तोहफे में दी। मैच से पहले कप्तान विराट कोहली ने उन्हें पेंटिंग सौंपी।

इस बीच मैच में कमेंट्री कर रहे पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने धोनी से एक बेहद ही खास मांग कर डाली। सुनील गावस्कर ने कहा कि वैसे तो धोनी ने अपने क्रिकेट करियर में लगभग सबकुछ हासिल किया है लेकिन मैं चाहता हूं कि वो रणजी ट्रॉफी में झारखंड की कमान संभालकर उसे खिताब जिताएं।

सुनील गावस्कर ने कहा, ‘एम एस धोनी ने कप्तान के तौर पर सबकुछ हासिल किया है। वो इस देश के सबसे महान खिलाड़ी और महान कप्तानों में से एक हैं। बस एक चीज की कमी है वो है रणजी ट्रॉफी जीतना। मैं धोनी से ये चाहता हूं कि वो अब झारखंड की कमान संभालें और उसे रणजी ट्रॉफी जिताएं। मैं जानता हूं कि उन्होंने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया है लेकिन अगर वो झारखंड की कप्तानी करेंगे तो उस टीम के खिलाड़ियों को काफी कुछ सीखने को मिलेगा।’ एमएस धोनी के 300वें वनडे मैच की 3 खास बातें

एम एस धोनी टीम इंडिया के छठे और दुनिया के 20वें खिलाड़ी हैं जिन्होंने 300 या उससे ज्यादा वनडे मुकाबलों में शिरकत की है। एम एस धोनी ने अपने 300वें वनडे में एक और खास रिकॉर्ड को अपने नाम किया। धोनी सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय मैच में विकेटकीपिंग करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। धोनी का बतौर विकेटकीपर ये 467वां मैच है। इससे पहले ये रिकॉर्ड द.अफ्रीका के विकेटकीपर मार्क बाउचर के नाम था।