कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की जंग में खेल जगत से अभूतपूर्व समर्थन देखने को मिला है। सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), सुनील छेत्री (Sunil Chhetri), विराट कोहली (Virat Kohli) और रोहित शर्मा(Rohit Sharma) जैसे खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री केयर्स फंड और कई दूसरी संस्थाओं को दान किया है। अब इस मुहिम से झारखंड के स्पिन गेंदबाज शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem) भी जुड़ गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जेएससीए स्टेडियम में भारत के लिए टेस्ट डेब्यू कर चुके नदीम लॉकडाउन के समय अपने घर धनबाद में हैं, जहां पर वो आसपास के 350 परिवारों की मदद कर रहे हैं। नदीम इन परिवारों तक चावल, सब्जी और जरूरी राशन पहुंचा रहे हैं।

भारतीय गेंदबाज ने कहा, “अभी तक हम 150 परिवारों तक राशन पहुंचाने में सफल रहे हैं, अभी 200 और बाकी हैं। मैं सीधी मदद में विश्वास रखता हूं, इसलिए सुबह से हम पैकेट तैयार करने में लग जाते है ताकि हम ज्यादा से ज्यादा लोगों की मदद कर सकें।”

कोरोना वायरस की वजह ने घरेलू क्रिकेट और फिर इंडियन प्रीमियर लीग के स्थगित होने की वजह से नदीम भी बाकी खिलाड़ियों की तरह निराश हैं लेकिन उनका भी यही कहना है कि खेल अभी प्राथमिकता नहीं है।

उन्होंने कहा, “फिलहाल सुरक्षा और स्वास्थ्य सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए। चाहे आज हो या कल, आईपीएल वापस आ जाएगा लेकिन फिलहाल लोगों की जिंदगी दांव पर लगी हुई है।”

इस दौरान खुद को फिट रखने के लिए नदीम घर पर ही जिम कर रहे हैं। उन्होंने बताया, “मेरे लिए घर पर वर्कआउट करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। कोई भी खिलाड़ी मैदान पर होना पसंद करेगा लेकिन हमें स्थिति को स्वीकार करना होगा। जिम सेशन से मुझे मदद मिल रही है। चाहे सीजन शुरू हो या फिर आईपीएल या फिर खेल का कोई और फॉर्मेट, मैं मैदान पर उतरने के लिए तैयार हूं।”