भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाज इस समय बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं. खासकर तेज गेंदबाज जिन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई है.

टीम इंडिया ने बांग्लादेश के खिलाफ 2-0 से की क्लीनस्वीप, ये रहे टेस्ट सीरीज जीत के 5 हीरो

भारत ने कोलकाता में खेले गए अपने पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में बांग्लादेश को पारी और 46 रन से हराकर दो मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम की. इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाजों ने सभी 19 विकेट अपने नाम किए. तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने 9 जबकि उमेश यादव ने 8 विकेट अपने नाम किए. वहीं दो विकेट मोहम्मद शमी के खाते में गए.

गेंदबाजों के इस प्रदर्शन को देख भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण भी काफी खुश हैं. उन्होंने भारतीय गेंदबाजों की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि वे एकजुट प्रदर्शन करते हैं और वे एक-दूसरे के प्रदर्शन का सम्मान करते हैं. यही इस गेंदबाजी यूनिट की सफलता का असली राज है. इसी वजह से भारतीय गेंदबाजों को सफलता मिली है.

पिंक बॉल टेस्ट में इशांत, उमेश और शमी की पेस ‘तिकड़ी’ का रहा बोलबाला, बना डाले ये रिकॉर्ड

2 मैचों की टेस्ट सीरीज में इशांत और उमेश ने एक समान 12-12 विकेट अपने नाम किए. शमी ने कुल 9 विकेट चटकाए.

बकौल अरुण, ‘ हमार बॉलिंग अटैक काफी अनुभवी है. इस पेस अटैक की खूबसूरती ये है कि वे कितनी जल्दी हालात से सामंजस्य बिठा लेते हैं. मुझे लगता है कि इन्होंने पिंक बॉल से अच्छी तरह सामंजस्य बिठाया. न्यूजीलैंड दौरे पर अच्छी चुनौती मिलेगी. हमार उस सीरीज की ओर देख रहे हैं.’

भारत ने इंदौर टेस्ट को पारी और 130 रन से जीता था. अब टीम इंडिया अपने घर में विंडीज के खिलाफ लिमिटेड ओवर की सीरीज खेलेगी. इस सीरीज की शुरुआत 6 दिसंबर से होगी जहां तीन टी-20 और इतने ही वनडे मैच खेले जाएंगे.