भारत और इंग्लैंड की महिला टीमें अब से कुछ ही देर बाद ब्रिस्टल के मैदान पर एकमात्र टेस्ट मैच की शुरुआत करेंगी. इस टेस्ट मैच की शुरुआत से पहले जो पिच रिपोर्ट सामने आ रही है. वह दोनों टीमों के साथ-साथ क्रिकेट फैन्स का भी दिल तोड़ने वाली है. इंटरनेशनल स्तर पर ऐसा सुनने व देखने को कम ही मिलता है. खबर यह है कि इस मैच में इस्तेमाल होने वाली पिच नई नहीं बल्कि पुरानी है, जिस पर एक टी20 मैच खेला जा चुका है. इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) को जब इस गलती का अहसास हुआ तो उसने आधिकारिक रूप से माफी मांग ली है.

बता दें भारतीय टीम इस टेस्ट मैच से 7 साल के लंबे अंतराल के बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी कर रही है. इस पिच पर 5 दिन पहले ग्लूसेस्टरशायर और ससेक्स के बीच टी20 ब्लास्ट का मैच खेला गया था. इंग्लैंड की महिला टीम की कप्तान हीथर नाइट ने तो इस मामले पर गहरी नाराजगी जताई है, जबकि भारतीय कप्तान मिताली राज ने इस मामले में चुप रहना ही बेहतर समझा है.

https://twitter.com/Gloscricket/status/1405071299504922625?s=20

ईसीबी ने इस गलती के लिए माफी मांगते हुए कहा, ‘हम सभी इस बात से निराश हैं कि भारत के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए विकेट पर 37 ओवर खेले गए थे. हम जानते हैं कि इंग्लैंड की महिलाएं नई विकेट की हकदार हैं और हमें खेद है कि हम इस उदाहरण में इसे उपलब्ध कराने में असमर्थ रहे.’

इसी पिच पर शुक्रवार को ससेक्स और ग्लूसेस्टरशायर के बीच मैच खेला गया था, जिसमें ससेक्स ने 5 विकेट से जीत दर्ज की थी. इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हीटर नाइट ने कहा है कि इस्तेमाल की गई पिच पर खेलना सही नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘मैंने पिच देखी है, ये एक प्रयोग में लाई गई विकेट है. इस पिच का इस्तेमाल पिछले हफ्ते ग्लूसेस्टरशर टी20 मैच के लिए किया गया था, जो मैं समझती हूं कि कहीं से भी टेस्ट मैच की आदर्श पिच नहीं है. हम चाहते थे कि हमें फ्रेश पिच खेलने को मिलेगी. अब मुझे नहीं पता कि जो पिच मिली है, वो किस तरह का व्यवहार करेगी.’

दूसरी ओर भारतीय कप्तान मिताली राज इस मामले पर सधी हुई प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘हम यहां एक मैच खेलने के लिए आए हैं. हमें जो भी स्ट्रिप मिलती है, हम कोशिश करते हैं और उसका परिणाम प्राप्त कर सकें. यह हमारा विचार है. चाहे वह एक इस्तेमाल किया हुआ विकेट हो या ताजा विकेट.. खिलाड़ियों के रूप में, और एक कप्तान के रूप में मैं निश्चित रूप से चाहती हूं कि मेरी टीम को एक परिणाम मिले और इसके लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम उसी के अनुसार अपनी रणनीति बनाएं.’