अमित मिश्रा © Delhi Daredevils
अमित मिश्रा © Delhi Daredevils

टाइमल मिल्स को उनकी तेज गति की गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। टी20 क्रिकेट में पिछले कुछ समय से उन्होंने बड़े से बड़े बल्लेबाजों को छकाया है। यही कारण है कि इस सीजन में आईपीएल की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उन्हें 12 करोड़ की भारी भरकम राशि देकर खरीदा है। तेज गति के साथ गेंदों में विविधता उन्हें और भी खतरनाक बना देती है। शनिवार को दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ खेले गए मैच में उन्होंने बल्लेबाजी कर रहे अमित मिश्रा को अपनी तेजी से नहीं बल्कि विविधता वाली गेंद से चौंका दिया।

यह बात दिल्ली डेयरडेविल्स की पारी के 18वें ओवर की है। चौथी गेंद मिल्स ने मिश्रा को फेंकी जिसकी रफ्तार 107 किमी./घंटा थी। ये गेंद मिश्रा के कंधे की ऊंचाई से आई। चूंकि, मिश्रा ने सोचा था कि गेंद तेज रफ्तार से उनके पास आएगी लेकिन ये धीमी गेंद थी इसलिए वह चकमा खा गए। उन्होंने बल्ले से गेंद को रक्षात्मक तरीके से खेलने की कोशिश की लेकिन गेंद को वह चूक गए और गेंद उनके हेलमेट की ओर जाने लगी। [आईपीएल 10-दिल्ली डेयरडेविल्स बनाम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर मुकाबले का स्कोरकार्ड ]

 

आनन- फानन में मिश्रा ने गेंद को हाथ से रोका और अपने आपको जैसे- तैसे बचाया। वैसे मिश्रा ने अपने आपको बचाने के लिए अपने हाथ का इस्तेमाल किया। वरना उनका गेंद से झेड़झाड़ का आरोप लग सकता था और उसके तहत उन्हें आउट भी दिया जा सकता था। वैसे बैंगलोर टीम के कप्तान शेन वॉटसन ने मिश्रा के द्वारा गेंद को हाथ से रोकने को लेकर अपनी नाराजगी भी व्यक्त भी की थी। मिश्रा इस मैच में 8 रन बनाकर आउट हुए। दिल्ली डेयरडेविल्स अपना पहला मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 15 रनों से हार गई।