वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा (Brian Lara) ने बताया है कि आईपीएल की सफल टीमों में शुमार चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) से इस सीजन कहां गलती हो गई। चेन्नई की टीम इस सीजन प्ले ऑफ की दौड़ से सबसे पहले बाहर हुई है, जबकि इससे पहले यह टीम हर बार प्ले ऑफ में पहुंची थी।

लारा के मुताबिक, इस सीजन एमएस धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली सीएसके ने युवाओं पर ज्यादा भरोसा दिखाने की बजाए अनुभव को ज्यादा तरजीह दी। इसी वजह से आईपीएल में उसका प्रदर्शन फीका साबित हुआ। दूसरी टीमें जहां युवाओं को मौके दे रही हैं, जबकि चेन्नई ने अपनी कोर टीम में कोई खास बदलाव नहीं किया था। लारा ने सलाह दी है कि अब उसे बाकी बचे मैचों में अपने युवा खिलाड़ियों को अधिक मौके देने चाहिए।

टूर्नामेंट के इतिहास की सबसे कामयाब टीमों में से एक चेन्नई इस सीजन अंकतालिका में सबसे नीचे है। सीनियर खिलाड़ियों को अधिक तरजीह देने के चलते इस टीम को अक्सर इस लीग में ‘बूढ़ों की फौज’ भी कहा जाता है। लारा ने स्टार स्पोर्ट्स के ‘सिलेक्ट डगआउट’ शो में कहा, ‘चेन्नई टीम में काफी उम्रदराज खिलाड़ी हैं। युवा खिलाड़ी दिखते ही नहीं। विदेशी खिलाड़ी भी लंबे समय से खेल रहे हैं।’

इस पूर्व दिग्गज लेफ्टहैंडर बल्लेबाज ने कहा, ‘यह सीजन उनके (CSK) लिए बहुत खराब रहा है। हर बार टीम मैदान पर उतरती तो हम दुआ करते थे कि इस मैच से पासा पलट जाएगा। मैच दर मैच हम उम्मीद लगाते रहे कि धोनी अब टीम को जीत दिलाएंगे लेकिन बस उम्मीदें ही रह गईं।’

51 वर्षीय लारा ने कहा, ‘अब सीएसके की स्थिति ऐसी है कि उनका फोकस अगले सीजन के लिए टीम बनाने पर होना चाहिए। इस सीजन उनके बाकी बचे मैचों में युवाओं को मौके मिलने चाहिए।’