IPL 2020: Kamlesh Nagarkoti didn’t have enough runs to defend in last over, says Eoin Morgan

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच में मिली हार के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान इयोन मोर्गन ने स्वीकार किया कि आखिरी ओवर में युवा तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी के पास बचाने के लिए ज्यादा रन नहीं थे।

सब कुछ झोंकने के बाद भी केकेआर के गेंदबाज टीम को हार से नहीं बचा सके। नाइट राइडर्स की ओर से वरूण चक्रवर्ती ने 20 जबकि पैट कमिंस ने 31 रन देकर दो-दो विकेट चटकाए लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।

मोर्गन ने मैच के बाद कहा, ‘‘टॉस हमारे पक्ष में नहीं रहा। हमारे गेंदबाजों ने अपना सब कुछ झोंक दिया लेकिन कौशल के मामले में कुछ चूक कर गए। हमें इस हार से उबरना होगा। हमारे पास एक विश्व स्तरीय स्पिनर है और दूसरा भारत के लिए खेलने की दहलीज पर है। ये शानदार स्पिनर हैं। मैं गेंदबाजों की गलती नहीं निकाल सकता। नागरकोटी को अंतिम ओवर में बचाव करने के लिए पर्याप्त रन नहीं मिले। अगर 16-17 रन होते तो बेहतर रहता।’’

चेन्नई की जीत के बाद फैंस ने ‘सर जडेजा’ को बताया सर्वश्रेष्ठ फिनिशर; फिर ट्रोल हुए मांजरेकर

मोर्गन ने कहा कि उन्हें लगा था कि उनकी टीम का स्कोर पर्याप्त होगा। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगा था कि रन पर्याप्त होंगे। हमें लगा कि हम मैच में बने हुए हैं। संभवत: इस विकेट पर 165 रन प्रतिस्पर्धी स्कोर था अगर विकेट और हालात समान रहते। मुझे लगता है कि आज हमने अच्छी बल्लेबाजी की।’’

पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता के लिए नितीश राणा ने 87 रनों की पारी खेली जिसकी बदौलत टीम ने 172 रन का स्कोर खड़ा किया। मोर्गन ने कहा, “हमें लगा कि हम मैच में बने थे। नितीश राणा ने एक बार फिर अपने क्लास का प्रदर्शन किया। बल्ले के साथ ये हमारे लिए अच्छा दिन था।”