Twitter hails Sir Jadeja as best finisher after Chennai Super Kings knocked Kolkata Knight Riders out of playoffs; Sanjay Manjrekar trolled
(Twitter)

इंडियन प्रीमियर लीग को 13वें सीजन की प्लेऑफ रेस से बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मैच में शानदार जीत हासिल इयोन मोर्गन की टीम को भी प्लेऑफ की दौड़ से निकाल दिया है। दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए इस मैच में एक बार फिर चेन्नई ने आखिरी ओवर में रोमांचक जीत हासिल की, जिसके नायक रहे ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा

173 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए रुतुराज गायकवाड़ ने एक छोर से चेन्नई की पारी को संभाल रखा लेकिन अंबाती रायुडू और फिर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के आउट होने से टीम मुश्किल में आ गई। फिर 18वें ओवर में गायकवाड़ के बोल्ड होने पर सीएसके फैंस की जीत की उम्मीद टूटने लगी।

तब मैदान पर उतरे जडेजा जिन्हें प्यार से चेन्नई फैंस ‘सर जडेजा’ बुलाते हैं। अपने नाम को सार्थक करते हुए जडेजा ने 11 गेंदो पर दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से 31 रनों की नाबाद पारी खेलकर चेन्नई को 6 विकेट से जीत दिलाई।

मैच के बाद इस जीत के लिए सोशल मीडिया पर जडेजा की जमकर तारीफ हुई और उन्हें टीम का नया फिनिशर कहा गया। दरअसल जडेजा ने कई बार आखिरी ओवरों में इस तरह की तेजतर्रार पारी खेलकर सीएसके और टीम इंडिया को अहम जीत दिलाईं हैं, ऐसे में उन्हें धोनी के बाद अगला फिनिशर कहना गलत नहीं होगा।

कप्तान धोनी ने खुद भी माना कि जडेजा डेथ ओवर के शानदार बल्लेबाज हैं। उन्होंने कहा, “इस सीजन जडेजा शानदार रहा है। वो हमारी टीम का एकलौता ऐसा बल्लेबाज है जिसने डेथ ओवर में रन बनाए हैं। उसे दूसरे छोर पर किसी के साथ की जरूरत थी और वो हमारे लिए अच्छा होता।”

फिर फंसे मांजरेकर

जडेजा की इस मैचविनिंग पारी के बाद फैंस ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर की भी चुटकी ली। दरअसल मांजरेकर ने हाल ही में कहा था कि जडेजा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली भारतीय टी20 टीम में शामिल होने के लायक नहीं है। ऐसे में जब जडेजा ने टी20 फॉर्मेट में धमाकेदार पारी खेली तो फैंस ने इस पूर्व खिलाड़ी को खूब ट्रोल किया।

ये पहला मौका नहीं है जब मांजरेकर ने जडेजा को लेकर कोई बयान दिया जो कि बाद में उन पर भारी पड़ा हो। 2019 विश्व कप के दौरान मांजरेकर ने कहा था कि जडेजा जैसे ‘आधे-अधूरे’ खिलाड़ी को खिलाने के बजाय वो किसी स्पेशलिस्ट बल्लेबाज या गेंदबाज को प्लेइंग इलेवन में देखना चाहेंगे। इस बयान पर जडेजा ने उन्हें ना केवल ट्विटर पर बल्कि मैदान पर अपने प्रदर्शन से भी करारा जवाब दिया था।