इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें एडिशन का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक आयोजित किया जाएगा. सभी 8 टीमें आईपीएल में शिरकत करने के लिए दुबई पहुंच चुकी हैं. भारतीय खिलाड़ी इस समय 6 दिन का  क्वारंटीन समय बिता रहे हैं.

रॉयल चैलेंजर बेंगलौर (RCB) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने आईपीएल के लिए टीम की पहली वर्चुअल बैठक में खिलाड़ियों को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल (बायो बबल) को बनाए रखने की अपील करते हुए चेतावनी दी कि एक गलती से पूरा टूर्नामेंट ‘खराब’हो सकता है.

यह अलग तरह की टीम बैठक थी लेकिन कोहली ने शुरूआत में भी साथी खिलाड़ियों से आग्रह किया कि वे संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अधिकारियों द्वारा लागू किये गये नियमों का पालन करें.

‘हम में से कोई ऐसा नहीं चाहेगा’

कोहली ने फ्रेंचाइजी द्वारा ट्विटर पर जारी इस बैठक के वीडियो में कहा, ‘हमें जो भी कहा गया है, हम उसका पालन कर रहे है. मैं चाहूंगा कि हर कोई ‘बायो बबल’ को सुनिश्चित करने में कोई समझौता न करे. मुझे लगता है कि हम में से किसी एक की गलती से पूरा टूर्नामेंट खराब हो सकता है. और हम में से कोई ऐसा नहीं चाहेगा.’

आरसीबी के क्रिकेट संचालन के निदेशक माइक हेसन और मुख्य कोच साइमन कैटिच भी इस बैठक में मौजूद थे. हेसन ने कोहली के सवाल के जवाब में नियमों के उल्लंघन के परिणामों के बारे में बताया.

उन्होंने कहा, ‘इससे (उल्लंघन) बहुत सख्ती से निपटा जाएगा. आकस्मिक उल्लंघन के लिए, खिलाड़ियों को सात दिनों के लिए पृथकवास पर भेज दिया जाएगा और फिर परीक्षण में निगेटिव आने के बाद ही (Bio Bubble) वापसी करने दिया जाएगा.’

‘हमें यह समझना होगा कि जैविक रूप से सुरक्षित महौल को बचाना जरूरी है’

उन्होंने कहा, ‘अगर खिलाड़ी जान-बूझ कर ऐसा करता है तो उसके गंभीर परिणाम होंगे. खिलाड़ियों को एक दस्तावेज पर हस्ताक्षर करेंगे जिसमें परिणाम का जिक्र होगा.’

भारतीय कप्तान ने अपनी फ्रेंचाइजी टीम से कहा, ‘हमें यह समझना होगा कि जैविक रूप से सुरक्षित महौल को बचाना जरूरी है.’

कोहली ने कहा, ‘मैं टीम के पहले अभ्यास सत्र में जाने के लिए इंतजार कर रहा हूं. यह कुछ ऐसा है जिसका हम सभी लुत्फ उठाएंगे. हमारे पास पहले दिन से एक अच्छी टीम संस्कृति बनाने का मौका है.’