इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में हिस्सा लेने आए ऑस्ट्रेलिया के वर्तमान और पूर्व खिलाड़ी अब तक अपने घर नहीं पहुंच पाए हैं. ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी दल ने आईपीएल का यह सीजन अनिश्चिकाल के लिए स्थगित होने के बाद मालदीव में डेरा डाल लिया था. अब उनके लिए एक सुखद खबर है कि इन खिलाड़ियों की रविवार को वतन वापसी हो सकती है.

भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर का कहर देखते हुए ऑस्ट्रेलिया सरकार ने अपने देश के उन नागरिकों के प्रवेश को 15 मई तक के लिए बैन कर दिया था, जो भारत यात्रा पर थे. इसमें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों का 38 सदस्यीय दल भी फंस गया. कोरोना के कारण आईपीएल स्थगित होने के बावजूद ये खिलाड़ी अपने घर नहीं पहुंच पाए थे.

इएसपीएन क्रिकइन्फो की रिपोर्ट के मुताबिक यह प्रतिबंध शनिवार को खत्म हो सकता है और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA), ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट संघ (ACA) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इस पुष्टि का इंतजार कर रहे हैं कि प्रतिबंध हटने के बाद सदस्यों को घर भेजा जा सकता है या नहीं.

अगर इसकी मंजूरी मिल जाती है तो 38 सदस्यीय दल को चार्टर्ड प्लेन के जरिए 16 मई को मालदीव से मलेशिया के रास्ते सिडनी भेजा जाएगा. स्वदेश पहुंचने पर इन्हें 14 दिनों तक क्वारंटीन में रहना होगा. उल्लेखनीय है कि आईपीएल टीमों में कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद आईपीएल 2021 को स्थगित कर दिया गया था.

ऑस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी इस लीग में बतौर क्रिकेटर जुड़े थे, जबकि रिकी पॉन्टिंग, साइमन कैटिच जैसे दिग्गज लीग की कई टीमों की कोचिंग कर रहे थे. इसके अलावा ब्रेट ली और माइकल स्लेटर जैसे पूर्व खिलाड़ी यहां कॉमेंट्री टीम के सदस्य के रूप में जुड़ने आए थे. ये सभी इन दिनों मालदीव पहुंच गए थे और घर वापसी को लेकर अपनी सरकार के अगले आदेश का इंतजार कर रहे हैं.

इस बीच पूर्व क्रिकेट माइकल स्लेटर ने अपने प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की अपने ही नागरिकों को देश में एंट्री न देने पर कई बार सार्वजनिक आलोचना भी की थी. लेकिन सरकार ने अपना निर्णय नहीं बदला.