कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ आखिरी ओवर में मिली हार से दिल्‍ली कैपिटल्‍स के सलामी बल्‍लेबाज पृथ्‍वी शॉ खासे निराश दिखे. निराशा का आलम ऐसा था कि वो मैदान में ही लेट गए और रोने लगे. उनके सबसे अच्‍छे दोस्‍त शिखर धवन पृथ्‍वी के पास आए और उनका हौंसला बढ़ाया.

एक समय में ऐसा लगा रहा था कि कोलकाता की टीम बेहद आसानी से इस मैच को जीत जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. आखिरी 25 गेंदों पर कोलकाता को जीत के लिए 13 रन चाहिए थे. तब तक कोलकाता ने केवल दो विकेट की गंवाए थे. आवेश खान ने 17वें ओवर में शुबमन गिल को आउट किया और दो रन दिए. फिर 18वें ओवर में कगीसो रबाडा ने दिनेश कार्तिक को शून्‍य पर आउट किया और एक रन दिया.

इसके बाद अगले ओवर में एनरिक नॉर्टजे ने तीन रन दिए और शून्‍य पर इयोन मोर्गन को आउट किया. आखिरी ओवर में कोलकाता को जीत के लिए सात रन चाहिए थे. गेंदबाजी पर थे रविचंद्रन अश्विन. अश्विन ने दो गेंदों पर शाकिब अल हसन और सुनील नरेन को शून्‍य पर आउट कर हैट्रिक का मौका बनाया. आखिरी दो गेंद पर कोलकाता को जीत के लिए छह रन चाहिए थे. राहुल त्रिपाठी ने छक्‍का लगाकर मैच का अंत किया.

मैच हारने के बाद पृथ्‍वी शॉ को कैमरे पर रोते हुए देखा गया. शायद इतना पास आने के बाद पृथ्‍वी ने टीम के हारने की उम्‍मीद नहीं की थी. हताश में उनकी आंखों से आंसू छलकने लगे.