इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन के शुरू होने से सात दिन पहले मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम के एक ग्राउंडस्टाफ के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद फ्रेंचाइजियों की परेशानी बढ़ गई है।

बता दें कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल 2021 का पहला मैच चेन्नई में खेला जाना है लेकिन टूर्नामेंट का दूसरा मैच चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच मुंबई में होना है।

एएनआई से बातचीत में एक फ्रेंचाइजी अधिकारी ने कहा कि इस मामले के सामने के बाद हालात में बदलाव आया है और अब प्रोटोकॉल और भी ज्यादा सख्त करने होंगे।

अधिकारी ने कहा, “जब आप टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले इस तरह की चीजें सुनते हैं तो आपको थोड़ी चिंता तो होती है। हम सभी सारे प्रोटोकॉल्स का पालन कर रहे हैं लेकिन साफ है कि जब इस तरह की खबर आती हैं तो आपको चिंता होती है। हम हालाक को सख्त बनाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। हमें सावधान रहना होगा।”

दूसरी फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने कहा कि ये मामला सभी के लिए एक चेतावनी है। उन्होंने कहा, “ये टूर्नामेंट शुरू होने से पहले एक तरह से चेतावनी का काम कर रहा है। अक्सर हम बबल के अंदर आने के बाद थोड़े लापरवाह हो जाते हैं। लेकिन इस मामले की वजह से ये सुनिश्चित होगा कि सभी प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं और कोई भी गलती नहीं हो रही है।”

14वें सीजन में वानखेड़े के मैदान पर कुल 10 मैच खेले जाने हैं। चेन्नई और दिल्ली समेत पंजाब किंग्स और राजस्थान रॉयल्स टीमों का बेस मुंबई में होगा।