ipl 2021 rr vs pk match preview rajasthan and punjab charged up for new season
राजस्थान vs पंजाब @BCCI-IPL

आईपीएल के नए सीजन के चौथे मुकाबले में सोमवार को राजस्थान रॉयल्स (RR) और पंजाब किंग्स (PK) की टीमें आमने-सामने होंगी. रॉयल्स की टीम इस बार नए कप्तान संजू सैमसन के साथ मैदान पर उतरेगी, जबकि पंजाब ने अपनी टीम का कप्तान और कोर भले ज्यादा न बदला हो लेकिन उसने अपनी किस्मत बदलने के लिए अपनी टीम का नाम जरूर बदला है. इस बार वह किंग्स XI पंजाब से पंजाब किंग्स बनकर मैदान पर उतरेगी. दोनों टीमों के पास कुछ बड़े-बड़े हिटर मौजूद हैं और सभी की नजरें इन्हीं पर होंगी.

राजस्थान की टीम आक्रामक ऑलराउंडर बेन स्टोक्स पर काफी निर्भर करेगी. स्टोक्स लय में आने की कोशिश करेंगे, जबकि इंग्लैंड के जोस बटलर और नव नियुक्त कप्तान सैमसन भी अच्छी शुरुआत करना चाहेंगे. रॉयल्स की टीम प्रतिभावान यशस्वी जायसवाल और बटलर के साथ पारी का आगाज कर सकती है जबकि सैमसन तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं. स्टोक्स मध्यक्रम को ताकत देंगे.

ये चारों अगर लय में खेलते हैं तो किसी भी गेंदबाजी क्रम को ध्वस्त करने में सक्षम हैं. पंजाब का बल्लेबाजी क्रम भी वानखेड़े की बल्लेबाजी की अनुकूल पिच पर किसी भी विरोधी टीम के लिए खतरनाक होगा. रॉयल्स के पास आलराउंडर शिवम दुबे, श्रेयस गोपाल, राहुल तेवतिया, रियान पराग और लियाम लिविंगस्टोन के रूप में और भी विकल्प मौजूद हैं.

गोपाल, तेवतिया और पराग लेग स्पिन गेंदबाजी भी कर लेते हैं और ऐसे में यह देखना रोमांचक होगा कि रॉयल्स की टीम दो लेग स्पिनर के साथ उतरती है या नहीं. तेवतिया और दुबे में बड़े शॉट खेलने की क्षमता है और उनका अंतिम एकादश में चयन लगभग तय है.

चोट के कारण जोफ्रा आर्चर की गैरमौजूदगी में रॉयल्स के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई क्रिस मॉरिस करेंगे, जिन्हें टीम ने इसी साल खिलाड़ियों की नीलामी में 16 करोड़ 25 लाख रुपये की भारी भरकम राशि में खरीदा. अंतिम एकादश में सिर्फ चार विदेशी खिलाड़ियों को खिलाने के कारण रॉयल्स को अपने संयोजन पर ध्यान देगा होगा. अब यह देखना होगा कि टीम बायें हाथ के तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान को चुनती है या फिर जयदेव उनादकट, कार्तिक त्यागी और चेतन सकारिया के बीच में से चयन करती है.

दूसरी तरफ पंजाब के पास राहुल (2020 सत्र में 670 रन), मयंक अग्रवाल (2020 सत्र में 424 रन) और क्रिस गेल जैसे आक्रमाक बल्लेबाज हैं. राहुल और अग्रवाल ने 2020 में मजबूत सलामी जोड़ी बनाई थी और इस जोड़ी के बरकरार रहने की उम्मीद है. टीम के पास इंग्लैंड के डेविड मलान, तमिलनाडु के एम शाहरुख खान और वेस्टइंडीज के निकोलस पूरण जैसे अच्छे हिटर मौजूद हैं. टीम को बस अपने संयोजन को सही रखने की जरूरत है.

शाहरुख को दीपक हुड्डा और सरफराज खान जैसे खिलाड़ियों पर तरजीह मिल सकती है और वह टीम में फिनिशर की भूमिका निभा सकते हैं. टीम के गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई मोहम्मद शमी करेंगे जिन्होंने पिछले सत्र में शानदार प्रदर्शन किया. ऑस्ट्रेलिया के जे. रिचर्डसन और रिली मेरेडिथ के साथ अनुबंध से टीम का तेज गेंदबाजी आक्रमण मजबूत हुआ है. टीम के पास क्रिस जोर्डन भी हैं. हालांकि यह देखना होगा कि शमी के साथ नई गेंद संभालने का मौका किसे मिलता है. स्पिन विभाग में टीम के पास मुरुगन अश्विन और रवि बिश्नोई जैसे गेंदबाज हैं.