भारतीय टीम के बाएं हाथ के पूर्व तेज गेंदबाज करसन घावरी (Karsan Ghavri) ने ऐसे माहौल में भारत में आईपीएल (IPL 2021) का आयोजन करने के लिए बीसीसीआई की आलोचना की. घावरी का कहना है कि यूएई आईपीएल आयोजन के लिए सबसे उपयुक्‍ज जगह होती. बायो-बबल (Bio-bubble) के अंदर लगातार आते कोरोना संक्रमण (Covid-19) के मामलों को देखते हुए मंगलवार को बीसीसीआई ने टूर्नामेंट अनिश्चित काल के लिए स्‍थगित कर‍ दिया है.

करसन घावरी (Karsan Ghavri) ने भारत के लिए साल 1974 से 1981 के बीच 39 टेस्‍ट और 19 वनडे मुकाबले खेले हैं. उन्‍होंने कहा, “कोविड-19 को भारत में आए एक साल से अधिक वक्‍त हो गया है. मैं कहूंगा कि ऐसे में आईपीएल का आयोजन यूएई या फिर अन्‍य किसी देश में किया जाना चाहिए था. भारत में इस वक्‍त परिस्थितियां काफी खराब हैं. भारत में इस टूर्नामेंट का आयोजित ठीक नहीं है. जैसा पिछले साल किया गया वैसे ही इस साल यूएई सही विकल्‍प होता.”

करसन घावरी (Karsan Ghavri) ने कहा, “मैं जानता हूं कि भारत में क्रिकेट की फैन फॉलोइंग काफी ज्‍यादा है लेकिन लोगों की सेहत सर्वोपरी है. यूएई में आईपीएल कराने में आखिर दिक्‍कत ही क्‍या थी. यूएई में सभी प्रकार की सुविधाएं हैं. वहां पांच सितारा होटल हैं. आपके पास अबुधाबी, दुबई और शारजाह में सभी तरह की सुविधाओं से युक्‍त मैदान हैं. यूएई आईपीएल आयोजन का पहला विकल्‍प होना चाहिए था.”

आईपीएल 2021 में केवल 29 मुकाबले ही पूरे हो सके. दिल्‍ली कैपिटल्‍स के अमित मिश्रा, कोलकाता नाइटराइडर्स के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर और चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के कोच लक्ष्‍मीपति बालाजी के कोरोना संक्रमित पाए जोने के बाद बीसीसीआई के होश उड़ गए और आनन फानन में आईपीएल को स्‍थगित करने का फैसला लेना पड़ा.