आईपीएल-9 में दो नई फ्रेंचाइजियां खेलेंगी © Getty Images (representational image)
आईपीएल-9 में दो नई फ्रेंचाइजियां खेलेंगी © Getty Images (representational image)

इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) के अगले दो संस्करणों के लिए दो नई फ्रेंचाइजियों पुणे और राजकोट को निलंबित फ्रेंचाइजियों चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स की जगह शामिल किया गया है। दोनों टीमों ने अपनी-अपनी टीमें क्रमशः ‘रिवर्स बिडिंग’ प्रक्रिया से जीती हैं। इन टीमों की नीलामी आईपीएल गवर्निंग काऊंसिल की दिल्ली में बैठक के दौरान हुई। यह एक वॉक-इन बिड थी जिसमें लगभग 21 कंपनियों ने भाग लिया था। इस सूची में कुछ भारतीय कंपनियां स्टार इंडिया, टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन, चेन्नई की सीमेंट कंपनी चेट्टीनेड और भारत की इलेक्ट्रॉनिक कंपनी वीडियोकॉन शामिल थीं। इन सभी कंपनियों ने नीलामी में भाग लेने के लिए 2 लाख की कीमत के दस्तावेज बीसीसीआई से खरीदे थे। इसे भी पढ़ें: आईपीएल-9 में नई टीम की ओर से खेलेंगे धोनी

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के मुताबिक, आईपीएल चेयरमेन राजीव शुक्ला ने बताया था कि रिवर्स बिडिंग के लिए बेस प्राइस 40 करोड़ रुपए रखा गया था और जो भी निवेशक सबसे कम बोली लगाएगा उसे टीम बेच दी जाएगी। जैसा कि ये दो नई फ्रेंचाइजी टीमों को अगले दो सालों के लिए ही आईपीएल में सम्मिलित किया गया है, इसीलिए नीलामी के लिए रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया को लागू किया गया था। इसे भी पढ़ें: रविचंद्रन अश्विन बने टेस्ट क्रिकेट के नंबर एक ऑलराउंडर

क्या है रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया?: इस प्रक्रिया के अंतर्गत अगर बोली लगाने वाले निवेशक की बोली निगेटिव होती है तो पार्टी को उस राशि को निगेटिव राशि के रूप में बीसीसीआई को अदा करना होगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इस प्रणाली को इसलिए अपनाया था क्योंकि वह चाहते थे कि इसमें ज्यादा से ज्यादा बोली लगाने वाले शामिल हों और बोली को जीतने वाली फ्रेंचाइजी इस बात को लेकर बुरा ना मानें कि उनकी टीमें सिर्फ दो सालों के लिए ही टूर्नामेंट में रहेगी, क्योंकि दो साल के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स के आने के बाद इन दोनों टीमों को निरस्त कर दिया जाएगा।

मंगलवार को यह रिपोर्ट किया गया कि राजकोट के लिए बोली इंटेक्स ग्रुप ने -16 करोड़ रुपए के साथ जीती वहीं पुणे टीम की बोली आरपी-संजीव गोयनका ने -10 करोड़ के साथ जीती। आरपी-संजीव गोयनका ग्रुप के चेयरमेन संजीव गोयनका ने पुणे की फ्रेंचाइजी को खरीदने के एवज में -10 करोड़ रुपए की बोली लगाई है इसलिए वह 10 करोड़ की राशि भारतीय क्रिकेट बोर्ड को देंगे। इसी समय में राजकोट टीम को खरीदने के लिए इंटेक्स टेक्नोलॉजीज इंडिया लिमिटेड बीसीसीआई को 16 करोड़ रुपए देगी। दोनों नई टीमें खिलाड़ियों की नीलामी पर न्यूनतम 40 करोड़ रुपये और अधिकतम 66 करोड़ रुपये खर्च कर सकेंगी। खिलाड़ियों की ड्रॉफ्टिंग 15 दिसंबर को होनी है। आईपीएल के एक ट्वीट में कहा गया है कि पुणे को सबसे पहले ड्रॉफ्ट के जरिए खिलाड़ियों को चुनने का अवसर मिलेगा। शेष खिलाड़ियों की नीलामी बेंगलुरू में छह फरवरी को होनी है।