जेसन होल्डर© Getty Images
जेसन होल्डर© Getty Images

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के टेस्ट कप्तान जेसन होल्डर का कहना है कि देश में अगर क्रिकेट को आगे बढ़ाना है तो हमें अच्छी पिचें तैयार करनी होंगी। होल्डर ने कहा है कि देश में चल रहे सुपर50 टूर्नामेंट में पिचें काफी स्लो और स्पिन को मदद करने वाली हैं और उनपर गेंद काफी नीचे रह रही है, जिसके कारण शॉट्स खेलने में काफी परेशानी हो रही है। होल्डर बार्बोडोस के कप्तान भी हैं। वेस्टइंडीज की टीम टी-20 रैंकिंग में तो शीर्ष पर कायम है लेकिन वह टेस्ट और एकदिवसीय रैंकिंग में काफी नीचे है। होल्डर ने कहा, “यहां खेलना काफी मुश्किल हो रहा है। हम वह स्कोर नहीं बना पा रहे हैं जो एकदिवसीय मैचों में बनाते हैं और इसका कारण पिचों का स्लो होना है।” ये भी पढ़ें: मैंने विराट कोहली की आलोचना नहीं की: मैक्सवेल

उन्होंने कहा, “मुझे इस टूर्नामेंट में बल्लेबाजी करने में काफी दिक्कत हो रही है, खासकर बीच के ओवरों में। यहां स्पिनर सफल हो रहे हैं, क्योंकि गेंद स्पिन हो रही है।”उन्होंने पिचों को सुधारने पर जोर देते हुए कहा, “मुझे लगता है कि हमें पिचों पर काम करने की जरूरत है जिससे शॉट्स खेलना आसान हो सके।” ये भी पढ़ें: शिवनारायण चंद्रपॉल ने अंतररास्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

वेस्टइंडीज के खिलाड़ी जेसन होल्डर ने अपनी टीम के तरफ से 13 टेस्ट मैच खेले है जिनमें इन्होंने 543 रन बनाए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए टेस्ट में इन्होंने 103 रन नाबाद बनाए है। वहीँ 35 एकदिवसीय क्रिकेट में इन्होंने 372 रन बनाए है और 2 अर्द्धशतक भी शामिल हैं।

होल्डर ने 13 टेस्ट मैच में 21 विकेट लिए जिसमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 15 रन देकर 3 विकेट भी हासिल किए हैं। अगर बात करे एकदिवसीय मैच की तो इन्होंने 35 मैच में 48 विकेट झटके हैं जिसमें 13 रन देकर 4 विकेट लिए हैं।

मैंने विराट कोहली की आलोचना नहीं की: मैक्सवेल