×

एशिया कप से पहले केएल राहुल और श्रेयस अय्यर ने जमकर बहाया पसीना, देखें वीडियो

अजीत अगरकर की अगुआई वाली राष्ट्रीय चयन समिति राहुल और अय्यर को तभी चुनेगी, अगर वे 50 ओवर के क्रिकेट की चुनौतियों का सामना कर पायेंगे

Shreyas Iyer

(Photo credit-Rishabh pant Instagram story)

श्रीलंका में होने वाले एशिया कप के लिए भारतीय टीम के चयन से पहले चोटों से उबर रहे केएल राहुल और श्रेयस अय्यर की जोड़ी सोमवार को बेंगलुरु की राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में मैच की परिस्थितियों के मुताबिक अभ्यास करने में जुटी थी.

एनसीए में पसीना बहाते नजर आए राहुल और अय्यर

हालांकि अभी तक पूरी जानकारी नहीं मिल सकी है कि राहुल ने पूरे 50 ओवर तक विकेटकीपिंग की या नहीं क्योंकि बड़े टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए यह बहुत जरूरी होगा. राहुल की जांघ की सर्जरी हुई थी जबकि अय्यर ने पीठ के स्ट्रेस फ्रेक्चर के लिए सर्जरी करायी थी, दोनों बेंगलुरु की गर्मी में एक अभ्यास मैच के दौरान पसीना बहाते देखे गये. इंस्टाग्राम पर एक वीडियो में दोनों अभ्यास मैच में खेलते हुए देखे जा सकते थे.

पीटीआई ने पहले ही अपनी खबर में बता दिया था कि अजीत अगरकर की अगुआई वाली राष्ट्रीय चयन समिति राहुल और अय्यर को तभी चुनेगी, अगर वे 50 ओवर के क्रिकेट की चुनौतियों का सामना कर पायेंगे और इसके लिए उन्हें ‘मैच सिम्युलेशन’ (मैच की परिस्थितियों के अनुसार अभ्यास करना) से गुजरना होगा.

मैच फिटनेस साबित करने के लिए है यह शर्त

राहुल के मामले में चयनकर्ता देखना चाहेंगे कि वह 50 ओवर के लिए विकेटकीपिंग करने के लिए फिट होंगे या नहीं और अय्यर को मैच फिटनेस साबित करने के लिए मैच के दौरान पूरे समय मैदान पर रहना होगा, केवल बल्लेबाजी फिटनेस ही 15 खिलाड़ियों की टीम में स्थान नहीं दिला सकेगी. एनसीए के शीर्ष अधिकारी उनके फिटनेस की स्थिति पर चुप्पी साधे हैं लेकिन एशिया कप टीम का चयन आगे बढ़ा दिया गया क्योंकि अजीत अगरकर की अगुआई वाली समिति इन दोनों को इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट से पहले पूरी तरह फिट होने का सर्वश्रेष्ठ मौका देना चाहती है, इस हफ्ते के बीच में या अंत में मुंबई में टीम की घोषणा की उम्मीद है.

श्रीलंका में परिस्थितियां होगी चुनौतीपूर्ण

बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा कि श्रीलंका की गर्मी में 50 ओवर तक विकेटकीपिंग करना चुनौतीपूर्ण होगा और एनसीए उन्हें तभी ‘फिटनेस सर्टिफिकेट’ दे सकता है, जब वह बिना किसी परेशानी के विकेटकीपिंग संभाल सके. साथ ही उन्होंने कोई टूर्नामेंट भी नहीं खेला है और पाकिस्तान के खिलाफ (दो सितंबर) को पहला अंतरराष्ट्रीय मैच उनके लिए काफी दबाव भरा हो सकता है.

trending this week