© Getty Images
© Getty Images

श्रीलंका क्रिकेट टीम के प्रदर्शन में सुधार लाने के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया गया है। इस समिति में दिग्गज खिलाड़ियों महेला जयवर्धने, कुमार संगाकारा, अरविंद डी सिल्वा और अनुरा टेन्नाकून को शामिल किया गया है। खेल मंत्रालय की ओर से गठित यह समिति श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड और मंत्रालय को अपनी सिफारिशें पेश करेगी। इस समिति के अध्यक्ष बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हेमाका अमारासूर्या होंगे।

श्रीलंका क्रिकेट प्रदर्शन में किए जाने वाले बदलावों के बारे में समिति ने अपनी चुप्पी साधी हुई है। हालांकि, उसने टीम में चोटों की समस्या को जाहिर किया है। इसके बारे में समिति के सदस्यों ने चर्चा भी की। डी सिल्वा ने कहा, “अभी जिस मुद्दे पर बात किए जाने की जरूरत है, वह खिलाड़ियों को लगने वाली चोटें हैं। जब भी टीम अच्छे फॉर्म में चल रही होती है, उस दौरान ही हमारे अच्छे खिलाड़ी चोटिल हो जाते हैं। हमें इस पर ध्यान देना होगा और पता लगाना होगा कि यह क्यों हो रहा है और इसमें किस तरह से सुधार लाया जा सकता है।”   खराब फॉर्म से जूझ रहे विराट कोहली पर वीरेंद्र सहवाग का बड़ा बयान

श्रीलंका ने भले ही अभी हाल में पाकिस्तान को टेस्ट मैच में हराया था, लेकिन इससे पहले उसने अपनी ही धरती पर टीम इंडिया से क्लीन स्वीप की हार झेली थी। श्रीलंकाई टीम पहले 3 टेस्ट मैचों की सीरीज हारी। उसके बाद उसने 5 मैचों की वनडे सीरीज में 5-0 से हार झेली और आखिर में वो एक टी20 मैच भी हार गई। इस पूरे दौरे पर श्रीलंकाई टीम की फील्डिंग बेहद खराब रही थी और उसके कई खिलाड़ी भी चोटिल हुए थे, यही सब देखते हुए श्रीलंकाई खेल मंत्रालय ने बदलाव के लिए बनी कमेटी में जयवर्धने और संगाकारा जैसे दिग्गजों को जगह दी है। (आईएएनएस के इनपुट के साथ)