क्राइस्टचर्च टेस्ट के पहले दिन शानदार पांच विकेट हॉल लेने वाले कीवी मीडियम पेसर काइल जेमीसन (Kyle Jamieson) का कहना है कि भारतीय बल्लेबाजों के शॉट खेलने से गेंदबाजों को विकेट लेने में मदद मिली।

जेमीसन ने कहा, ‘‘उन्होंने वेलिंगटन में जितने शॉट खेले थे, उससे ज्यादा इस बार इस पारी में खेले। मुझे लगता है कि पिच ने भी शायद ऐसा करने में उनकी मदद की। लेकिन मुझे लगता है कि इसी की वजह से हमें भी उन्हें आउट करने में मदद मिली।’’

हेगले ओवल की पिच स्ट्रोक खेलने के लिए बेहतर है और इसलिए गेंदबाजों को सही लेंथ हासिल करने में थोड़ा समय लगा। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि आप जहां गेंद पहुंचाने की कोशिश कर रहे हो, अगर वो सही जगह गई तो अच्छा है लेकिन अगर वो थोड़ी कम रह गयी तो बल्लेबाज के लिए मुश्किल हो सकती है। उन्होंने अच्छे शॉट खेले।’’

हनुमा विहारी ने कहा- अपनी ही गलतियों से आउट हुए भारतीय बल्लेबाज

जेमीसन ने कहा, ‘‘जब हमने ओवरपिच गेंदबाजी की तो उन्होंने इसे दूर तक खेला और जब हम वाइड से चूके तो उन्होंने इसे भी दूर तक खेला इसलिये बात सिर्फ क्रीज पर बने रहने की थी और मुझे लगता है जहां तक एकजुट प्रयास की बात है तो हम इसमें सफल रहे और हमारे लिये दिन अच्छा रहा।’’

उन्होंने माना कि दूसरा और तीसरा दिन भी बल्लेबाजी के लिए बेहतर होगा। उन्होंने कहा, ‘‘ये दूसरे और तीसरे दिन भी इसी तरह का रहेगा जहां आपके शॉट काफी अहम रहेंगे और इसके बाद यह शायद थेाड़ा सपाट होगा।’’