Mohammad Abbas : I knew that one day God would reward me for my hard work
Mohammad-Abbas © AFP (file photo)

ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पाक की टेस्‍ट सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाने वाले तेज गेंदबाज मोहम्‍मद अब्‍बास  का शनिवार को स्‍वदेश लौटने पर हीरो जैसा स्‍वागत हुआ।

इस पाक पेसर ने दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज में कुल 17 विकेट अपने नाम किए। अबू धाबी में खेले गए सीरीज के दूसरे और अंतिम टेस्‍ट मैच में मोहम्‍मद अब्‍बास ने कुल 10 विकेट चटकाए।

अब्‍बास इस सीरीज में पाक के लिए एक शानदार तेज गेंदबाज के रूप में उभरे हैं। उन्‍हें मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। 28 साल के अब्‍बास अपने इस प्रदर्शन से बेहद खुश हैं।

पाकिस्‍तान ने शुक्रवार को दूसरे टेस्‍ट मैच में ऑस्‍ट्रेयिला को 373 रन से रौंद दिया। रनों के लिहाज से टेस्‍ट क्रिकेट में पाक की ये सबसे बड़ी जीत है।

जियो टीवी के मुताबिक सियालकोट एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत करते हुए अब्‍बास ने कहा, ‘ मैं ये बात अच्‍छी तरह जानता था कि मुझे मेरी कड़ी मेहनत का फल एक न एक दिन जरूर मिलेगा। मेरा लक्ष्‍य यही था कि चाहे हालात जैसे भी हों मुझे बेहतर प्रदर्शन करना है।’

10 टेस्‍ट में 59 विकेट ले चुके हैं अब्‍बास

10 टेस्‍ट मैचों में अब्‍बास के नाम 15.64 के शानदार औसत से 59 विकेट हो चुके हैं। तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ (2006) के बाद अब्‍बास पहले ऐेसे तेज गेंदबाज हैं जिन्‍होंने पाक की ओर से किसी एक टेस्‍ट मैच में 10 विकेट लिए हों।

इंग्‍लैंड के खिलाफ भी रहे थे मैन ऑफ द सीरीज

इस वर्ष जून में इंग्‍लैंड में खेली गई टेस्‍ट सीरीज में भी मोहम्‍मद अब्‍बास का प्रदर्शन शानदार रहा था। पाक ने इंग्‍लैंड दौरे पर दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज 1-1 से ड्रॉ कराई थी। इस सीरीज में अब्‍बास ने कुल 10 विकेट लिए थे। उन्‍हें मैन ऑफ द सीरीज आंका गया था। उन्‍होंने लॉडर्स टेस्‍ट में 8 विकेट निकाले थे।

बकौल अब्‍बास, ‘ मुझे कई मौके मिले लेकिन मैंने अपना ध्‍यान केवल क्रिकेट पर ही केंद्रित किया। मुझे इस बात से कोई शर्मिंदा नहीं है कि मैंने क्रिकेट के अलावा भी पहले कई और जॉब किए हैं।’

अब्‍बास ने उस सभी का शुक्रिया अदा किया जो उन्‍हें एयरपोर्ट पर लेने आए हुए थे। बकौल अब्‍बास, ‘ मैं अपनी इस शानदार फॉर्म को आगे भी जारी रखना चाहता हूं।’