Mohammed Shami feels that if Team India manages to repeat last six months performance then England tour
मोहम्मद शमी © Getty Images

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को लगता है कि टीम यदि पिछले छह महीने के शानदार प्रदर्शन को दोहराने में कामयाब रहती है तो इंग्लैंड दौरा भी उसके लिए सफल होगा।

भारतीय टीम दो जून को साढ़े तीन महीने के इंग्लैंड दौरे पर रवाना होगी जहां वो न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जून से शुरू होने वाला विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल भी शामिल है। इसके बाद भारत चार अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगा।

इस तेज गेंदबाज ने ‘गल्फ न्यूज’ से कहा, ‘‘देखिए बहुत अधिक योजनाएं बनाने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि कुछ चीजें हमारे नियंत्रण में नहीं हैं। किसने सोचा था कि ये महामारी हमारी जिदंगी के दो साल बर्बाद कर देगी। इसलिए मैं एक समय में एक सीरीज या एक टूर्नामेंट पर ध्यान दे रहा हूं। हमने टीम के रूप में हाल में बेजोड़ क्रिकेट खेली है और निश्चित तौर पर इंग्लैंड दौरे से पहले हमारा मनोबल बढ़ा हुआ है।’’

अब तक 50 टेस्ट मैचों में 180 विकेट लेने वाले शमी ने कहा, ‘‘यदि हम पिछले छह महीने की फार्म को दोहराने में सफल रहते हैं तो मुझे पूरा विश्वास है कि यह दौरा हमारे लिये शानदार होगा।’’

सितंबर में ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी भारतीय महिला टीम

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडीलेड टेस्ट में कलाई में चोट लगने के कारण लगातार सात टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाने वाले शमी जानते हैं कि वह हमेशा नहीं खेल सकते हैं और यही कारण है कि युवा पीढ़ी को गुर सिखाना चाहते हैं।

शमी ने कहा, ‘‘ऐसा स्वत: ही होता है। इतने वर्षों से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में होने के बाद मैं युवाओं को गुर सिखाना पसंद करूंगा। मैं हमेशा नहीं खेलता रहूंगा इसलिए यदि मैं युवाओं को गुर सिखाता हूं तो यह अच्छा होगा। मेरा रवैया कैसा होगा इसको लेकर मैं बहुत अधिक नहीं सोचता। मैंने आईपीएल में अपनी लय हासिल कर ली थी और बाकी चीजें परिस्थितियों पर निर्भर करती हैं।”