बांग्लादेश क्रिकेट टीम (Bangladesh Cricket Team) कुछ दिनों में भारत दौरे पर आने वाली है, जहां वह मेजबान टीम (INDvBAN) के साथ तीन टी-20 और दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी।

पढ़ें: हार से परेशान फाफ डु प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट से टॉस को हटाने के दे डाले सुझाव

बांग्लादेश टीम के अनुभवी विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम (Mushfiqur Rahim) ने टेस्ट क्रिकेट में विकेटकीपिंग नहीं करने का निर्णय लिया है।  रहीम ने अपना वर्कलोड कम करने के लिए यह फैसला लिया है।  उनका कहना है कि वह तीनों प्रारूपों में खेलते हैं इसलिए अपना वर्कलोड कम करने और चोट से बचने के लिए यह निर्णय ले रहे हैं।

टेस्ट में विकेटकीपिंग करने की इच्छा नहीं है’

वेबसाइट ‘क्रिकबज’ के मुताबिक मुशफिकुर (Mushfiqur) ने कहा, ‘मेरी टेस्ट मैचों में विकेटकीपिंग करने की इच्छा नहीं है।  मुझे आने वाले दिनों में सभी प्रारूपों में काफी सारे मैच खेलने हैं।  मैं इंटरनेशनल क्रिकेट के अलावा ढाका प्रीमियर लीग (Dhaka Premier League) और बांग्लादेश प्रीमियर लीग (Bangladesh Premier League) में भी हिस्सा लेता हूं।  सबकुछ देखते हुए मुझे लगा कि मेरे ऊपर वर्कलोड ज्यादा हो रहा है। ‘

मुख्य कोच को इसके बारे में जानकारी दे दी है’

मुशफिकुर ने कहा कि उन्होंने अपने इस फैसले की जानकारी टीम के मुख्य कोच को बांग्लादेश-ए के श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के दौरान ही दे दी थी।

पढ़ें: Adelaide T20: ‘बर्थडे ब्वॉय’ वॉर्नर का टी-20 में पहला शतक, ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 134 रन से रौंदा

बकौल मुशफिकुर, ‘मैं लंबे समय तक टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं और तीनों प्रारूपों में खेलता हूं जिसके कारण मुझे अपनी फिटनेस का भी खास ध्यान रखना पड़ेगा।  हालांकि, पिछले 5 साल में मुझे कोई गहरी चोट नहीं लगी है लेकिन मैंने इस दौरान आराम भी नहीं लिया है।  मैं नहीं चाहता कि भविष्य में ऐसी स्थिति बने कि मुझे 1-2 सीरीज से आराम लेना पड़े।  इससे अच्छा है कि मेरा वर्कलोड कम रहे और मैं लगातार खेलता रहूं।  इसी वजह से मैंने टेस्ट क्रिकेट में अब विकेटकीपिंग नहीं करने का फैसला किया है।’