Nasser Hussain slams joke scheduling, says its madness for players
Twitter

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने व्यस्त क्रिकेट कैलेंडर की आलोचना की है और इसे इसे खिलाड़ियों के लिए पागलपन करार दिया। हुसैन का ये बयान 31 साल के स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के रिटायरमेंट के एक दिन बाद आया है। स्टोक्स ने 31 साल की उम्र में वनडे क्रिकेट से रिटायरमेंट का ऐलान कर सभी को चौंका दिया है। स्टोक्स ने कहा कि तीनों प्रारूप में खेलना उनके लिए व्यावहारिक नहीं रह गया था।

इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच आज यानी 19 जुलाई को पहला वनडे मुकाबला खेला जाना है जो स्टोक्स के करियर का आखिरी वनडे मैच होगा। हुसैन ने ‘स्काई स्पोर्ट्स’ के लिए अपने कॉलम में लिखा, “यह निराशाजनक खबर है। ये साफ दिखाता है कि इस समय क्रिकेट का कार्यक्रम कितना व्यस्त हो चुका है। यह खिलाड़ियों के लिए थका देने वाला है।”

उन्होंने कहा, “अगर ICC सिर्फ ICC इवेंट्स आयोजित करेगा और अलग-अलग बोर्ड इस बचे हुए समय में जितना संभव हो सके उतने मैच खेलेंगे तो क्रिकेटर्स लंबे समय तक नहीं खेल पाएंगे।”

उन्होंने कहा, “स्टोक्स ने 31 साल की उम्र में एक फॉर्मेट को अलविदा कह दिया, जो वास्तव में सही नहीं हो सकता है। शेड्यूल को देखने की जरूरत है, इस समय यह एक मजाक की तरह लग रहा है।”

स्टोक्स के वनडे करियर को तीन साल पहले लॉर्ड्स में न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप फाइनल में उनके प्लेयर ऑफ द मैच प्रदर्शन के लिए हमेशा याद किया जाएगा। उनके नाबाद 84 रन ने मैच को सुपर ओवर में पहुंचा दिया जहां इंग्लैंड ने रोमांचक अंदाज में अपना पहला 50 ओवर का वर्ल्ड कप खिताब जीता।

नासिर हुसैन ने कहा, “स्टोक्स का रिटायरमेंट मेरे लिए चौंकाने वाला है। यह वास्तव में शर्म की बात है क्योंकि उन्होंने हमें और इंग्लैंड के प्रशंसकों को 2019 में बहुत लंबे समय बाद सबसे बड़ा दिन दिया, एक ऐसा दिन जब हम वर्ल्ड कप फाइनल जीते थे और इस दिन को हम कभी नहीं भूलेंगे।”

उन्होंने कहा, “मैदान पर लड़ने की बात हो, यदि आप मुझसे इंग्लैंड का एक क्रिकेटर के नाम पूछे जो कठिन परिस्थिति में इसके लिए हमेशा तैयार रहता है, तो कौन विजेता है – आप यह नहीं सिखा सकते, आप उसके साथ पैदा नहीं हुए हैं – स्टोक्स के पास वह काबिलियत है और उसके पास ये बहुतायत में है। वो वर्ल्ड कप फाइनल, अगर कोई एक क्रिकेटर है जिसे आप अंत तक लड़ते देखना चाहते हैं, तो वह बेन स्टोक्स है। उसने समर में हेडिंग्ले में एशेज टेस्ट मैच में भी ऐसा ही किया था।”