Neeraj Chopra to participate in Lausanne Diamond League date released
neeraj chopra

नई दिल्ली: ओलिंपिक चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा पिछले महीने लगी ग्रोइन की मामूली चोट से उबर चुके हैं और 26 अगस्त को स्विट्जरलैंड के लुसाने में डायमंड लीग प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए तैयार हैं।

लुसाने में अच्छा प्रदर्शन चोपड़ा की सात और आठ सितंबर को ज्यूरिख में डायमंड लीग फाइनल में जगह सुनिश्चित कर सकता है क्योंकि वह अभी तालिका में चौथे स्थान पर हैं। तालिका में शीर्ष छह में रहने वाले खिलाड़ी ज्यूरिख में होने वाले फाइनल में जगह बनाएंगे। लुसाने प्रतियोगिता आखिरी चरण है जिसमें पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा को शामिल किया गया है।

अमेरिका के यूजीन में 24 जुलाई को विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में एतिहासिक रजत पदक जीतने के दौरान 24 साल के चोपड़ा को चोट लगी थी जिसके कारण वह बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों से भी हट गए थे।

चिकित्सा टीम ने चोपड़ा को चार हफ्ते के आराम की सलाह दी थी जिसके बाद वह बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों (28 जुलाई से आठ अगस्त) की शुरुआत से सिर्फ दो दिन पहले इन खेलों से हट गए थे। वह इसके बाद जर्मनी में रिहैबिलिटेशन से गुजरे।

चोपड़ा ने ट्वीट किया, ‘मजबूत और शुक्रवार के लिए तैयार महसूस कर रहा हूं। समर्थन के लिए सभी का धन्यवाद। लुसाने में मिलते हैं।’

आयोजकों ने 17 अगस्त को जब प्रतिभागियों की सूची जारी की थी तो उसमें चोपड़ा का नाम भी था लेकिन चोट के कारण इस प्रतियोगिता में उनके हिस्सा लेने को लेकर अटकलें लगाई जा रहीं थी।

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के अध्यक्ष आदिले सुमारिवाला ने कहा था कि अगर चोपड़ा ‘मेडिकल रूप से फिट’ हुए तो लुसाने में प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे।

स्टॉकहोम चरण में 30 जून को दूसरे स्थान के साथ पहली बार पोडियम पर जगह बनाने वाले चोपड़ा सात अंक के साथ तालिका में चौथे स्थान पर हैं। तोक्यो ओलंपिक के रजत पदक विजेता चेक गणराज्य के याकुब वादलेच 20 अंक के साथ शीर्ष पर चल रहे हैं। जर्मनी के जूलियन वेबर के 19 जबकि विश्व चैंपियन ग्रेनाडा के एंडरसन पीटर्स के 16 अंक हैं।

ग्रोइन की चोट के कारण भले ही चोपड़ा की तैयारियां प्रभावित हुई हों लेकिन वह डायमंड लीग में पहले खिताब को लक्ष्य बना सकते हैं क्योंकि लुसाने में छह खिलाड़ियों की स्पर्धा में उनके विरोधी उतने मजबूत नहीं हैं जितने स्टॉकहोम चरण में थे।