16 मार्च 2012 भारतीय क्रिकेट के इतिहास का एक ऐसा दिन है जिसे क्रिकेट फैंस कभी भुला नहीं पाएंगे। आज के दिन, नौ साल पहले टीम इंडिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने शतकों का शतक बनाने का विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

एशिया कप 2012 के दौरान बांग्लादेश के खिलाफ मीरपुर में खेले गए वनडे मैच में शतक जड़ सचिन 100 अंतरराष्ट्रीय शतक बनाने वाले दुनिया के पहले और एकलौते बल्लेबाज बने थे। उनका ये रिकॉर्ड आज तक कोई और खिलाड़ी नहीं तोड़ सका है। हालांकि मौजूदा क्रिकेट के दिग्गज विराट कोहली सचिन के इस रिकॉर्ड के करीब पहुंच रहे हैं।

मीरपुर में खेले गए उस मैच में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अपने स्टार सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का विकेट सस्ते में खो दिया था। जिसके बाद तेंदुलकर ने कोहली के साथ मिलकर 113 रनों की शानदार साझेदारी बनाई। कोहली के आउट होने के बाद मध्यक्रम बल्लेबाज सुरेश रैना ने तेंदुलकर का साथ दिया।

पारी के 44वें ओवर में सचिन ने अपना 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक पूरा किया। उन्होंने 147 गेंदो पर 114 रनों की पारी खेली, जिसकी बदौलत टीम इंडिया ने 50 ओवर में पांच विकेट पर 289 रन का स्कोर खड़ा किया। हालांकि बांग्लादेश ने 50 ओवर में चार गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर ये मैच 5 विकेट से जीता।

साल 1989 में टीम इंडिया के लिए अंतरराष्ट्रीय डेब्यू करने वाले सचिन ने 200 टेस्ट मैचो में 15,921 रन बनाए थे, जिसमें 51 शतक और 68 अर्धशतक शामिल थे। जबकि 463 वनडे मैचों में सचिन के नाम 49 शतक और 96 अर्धशतक के साथ कुल 18,426 रन हैं।