Questioning Dom Sibley’s ability to play spin after he scored a double century against R Ashwin is wrong: Darren Gough
डॉमिनिक सिबले (Twitter)

इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डेरेन गॉ ने सलामी बल्लेबाज डॉमिनिक सिबले की स्पिन गेंदबाजी को खेलने की क्षमता की सरहाना करते हुए कहा कि अगर वो काउंटी क्रिकेट में भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के खिलाफ दोहरा शतक बना सकते हैं तो दुनिया के किसी भी स्पिनर का सामना कर सकते हैं।

24 साल के सिबले ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में एक शतक और दो अर्धशतक लगाए हैं। धीमी बल्लेबाजी के कारण हालांकि उनकी आलोचना भी हुई है। वेस्टइंडीज ने मैच के तीसरे दिन रविवार को जब स्पिनरों को अटैक पर लगाया तो सिबले थोड़े संघर्ष करते दिखे।

गॉ ने ‘स्काई स्पोर्ट्स’ से कहा, ‘‘लोग मुझे बताते रहे कि वो स्पिन के खिलाफ सहज नहीं है। मैंने पहले भी कहा है कि उसने अश्विन के खिलाफ दोहरा शतक बनाया है। अश्विन अभी सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक है। उसने (सिबले) उनके खिलाफ दोहरा शतक बनाया है और मैदान के हर तरफ शॉट लगाए थे। अगर वो अश्विन के खिलाफ खेलते हुए दोहरा शतक बना सकता है तो मेरे लिए ये काफी हैं।’’

टेस्ट में वीरेंदर सहवाग जितना प्रभावी खिलाड़ी कोई और नहीं : गौतम गंभीर

वॉरविकशर की तरफ से खेलते हुए सिबले ने नॉटिंघमशर के खिलाफ नाबाद 215 रन बनाए थे। नॉटिंघमशर की टीम में अश्विन भी थे। इंग्लैंड के लिए 58 टेस्ट में 229 विकेट लेने वाले गॉ का मानना है कि सिबले की लंबी पारी खेलने की क्षमता उन्हें पूर्व दिग्गजों माइकल आथर्टन और एलेस्टेयर कुक जैसा बनाती है जहां वह शीर्ष क्रम में अपना प्रभाव छोड़ सकते हैं।

गॉ ने कहा, ‘‘मैं उसे पसंद करता हूं, उसे आउट होना पसंद नहीं है। हम ऐसे ही बल्लेबाज को ढूंढ रहे थे। हम शीर्ष क्रम पर आथर्टन या कुक जैसे बल्लेबाजों के बारे में बात करते हैं, हमें ऐसा बल्लेबाज मिल गया है। सिबले ने यह साबित किया है कि वो शीर्ष क्रम पर खेलते हुए समय बिता सकता है। हमारे पास कई खिलाड़ी है जो रनगति को बढ़ा सकते है। हमें ऐसे बल्लेबाज चाहिए जो नई गेंद की चमक कम कर सकें।’’