Questions on my age and future have always spurred to become a better player: Mohammad Hafeez
Mohammad Hafeez @afp (file image)

पाकिस्तान के अनुभवी ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने हाल में नेशनल टीम और टी20 फ्रेंचाइजी के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किए हैं। 40 साल के पूर्व पाकिस्तान कप्तान हफीज अपने करियर के आखिरी पड़ाव पर हैं। इससे पहले हफीज की जमकर आलोचना हो रही थी। हफीज का मानना है कि आलोचना और उनके खेल को लेकर उठते सवालों ने उन्हें बेहतर बनने के लिए प्रेरित किया है।

इंग्लैंड के क्रिकेटरों को आश्वासन, दक्षिण अफ्रीका दौरा खटाई में नहीं

न्यूजीलैंड दौरे के लिए चुनी गयी टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे हफीज ने कहा, ‘जब मुझे अपनी उम्र और भविष्य पर आलोचना या सवालों का सामना करना पड़ता है तो मैंने हमेशा इसे एक चुनौती के तौर पर लिया है।’

हफीज ने कुछ साल पहले टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था और वह अब सिर्फ सीमित ओवरों के प्रारूप में खेलते है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने न्यूजीलैंड दौरे के लिए चुनी गयी टीम में हफीज के अलावा असद शाफिक, मोहम्मद आमिर और शोएब मलिक जैसे अनुभवी खिलाड़ियों को तरजीह नहीं दी।

विल पुकोवस्की को पहले टेस्ट के लिए प्लेइंग XI में जगह नहीं मिलेगी: गिलक्रिस्ट

हफीज ने कहा, ‘मैंने हमेशा खुले दिमाग से और बिना किसी से डर के क्रिकेट खेला है। मुझे खुशी है कि 40 साल तक पहुंचने के बाद भी मैं खेल का आनंद ले रहा हूं और अपनी टीमों के लिए भी योगदान दे रहा हूं।’

हफीज ने कहा कि वह 2021 में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप में खेलना चाहते है। उन्होंने कहा कि वह तब तक खेलते रहेगे जब तक उन्हें लगेगा कि उनमें शीर्ष स्तर पर सफल होने की भूख बरकरार है।