Rahul Dravid: The way whole thing got played out in the media was very unfortunate for Anil Kumble
राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले कर्नाटक के लिए रणजी क्रिकेट खेल चुके हैं © AFP

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने आखिरकार विराट कोहलीअनिल कुंबले विवाद पर अपने विचार सामने रखे हैं। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान द्रविड़ ने इस बारे में बात करते हुए कहा, “आखिर में मुझे नहीं पता कि पूरा मामला आखिर है क्या लेकिन मैं इतना जरूर कहूंगा कि इसे उस तरह से बाहर नहीं आना चाहिए था जैसे कि ये आया।” बैंगलौर में एक लिट्रेचर फेस्टिवल के दौरान उन्होंने ये बातें कही। द्रविड़ ने इस मामले पर नाराजगी जताते हुए कहा, “मीडिया में जिस तरह से सारी बातें सामने आई वह अनिल के लिए काफी बदकिस्मती की बात है और यह उनके साथ गलत हुआ।”

द्रविड़ ने आगे कहा, “सच क्या है और बंद दरवाजों के पीछे जो हुआ उसके बारे में मुझे कुछ नहीं पता इसलिए मैं उस पर टिप्पणी नहीं करूंगा। लेकिन अनिल जैसे दिग्गज जिन्होंने भारत को इतने सारे टेस्ट मैच जिताए हैं, उनके साथ जो कुछ भी हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण था। लेकिन ये बात सच है कि ये मामला जिस तरह बाहर आया, वैसे नहीं आना चाहिए था।” द्रविड़ ने ये भी माना कि खिलाड़ी कोच से कहीं ज्यादा ताकतवर होते हैं।

राहुल द्रविड़ ने विराट कोहली की आक्रामकता पर दिया बड़ा बयान
राहुल द्रविड़ ने विराट कोहली की आक्रामकता पर दिया बड़ा बयान

उन्होंने कहा, “देखिए कोच पद से हटाए जाते हैं। जब आप खेलना छोड़ते हैं और कोच बनते हैं तो आपको जो पहली चीज समझ आती है, वो ये है कि किसी दिन आपको पद से हटा दिया जाएगा। यही सच है, अंडर-19 और भारत ए टीम के कोच के तौर पर मुझे पता है किसी दिन मुझे हटा दिया जाएगा। कुछ फुटबॉल मैनेजर्स को दो मैचों के बाद हटा दिया जाता है, यही सच है। खिलाड़ी कोच से ज्यादा ताकतवर होते हैं। हमें ये पता है क्योंकि हम उन कोचों से ज्यादा ताकतवर थे जिनके अंडर हम खेलते थे।”

आखिर में द्रविड़ ने कहा कि क्रिकेटर साधारण आदमी होते हैं। उनके अमीर होने से कई और लोग अमीर बनते हैं। इसलिए उन्हें उसी हिसाब से काम करना होता है।