Ranji Trophy 2018-19, Group C and plate group roundup, Day-2
Ranji-Trophy-2018-19

विकेटकीपर चेतन बिष्ट के 159 रन की मदद से राजस्थान ने जम्मू कश्मीर के खिलाफ एलीट ग्रुप सी रणजी ट्रॉफी मैच में 379 रन का प्रतिस्पर्धी स्कोर बनाया। इसके बाद राजस्थान के गेंदबाजों ने दूसरे दिन स्टंप तक जम्मू कश्मीर के 186 रन तक 7 विकेट झटक लिए। टीम अभी पहली पारी के हिसाब से 193 रन से पिछड़ रही है।

जम्मू कश्मीर के लिए परवेज रसूल ने 47 रन की पारी खेली जबकि शुभम खजूरिया और पारस शर्मा ने 40-40 रन के समान स्कोर बनाए। राजस्थान से सुबह तीन विकेट पर 300 रन से आगे खेलना शुरू किया लेकिन 30 वर्षीय तेज गेंदबाज मोहम्दद मुदासीर की हैट्रिक से पूरी टीम 379 रन पर सिमट गई। मुदासीर ने 90 रन देकर पांच विकेट चटकाए। बिष्ट ने 294 रन की पारी में 24 चौके जड़े।

झारखंड को 344 पर समेटने के बाद असम की मजबूत शुरूआत

शिवशंकर राय (नाबाद 47) और गोकुल शर्मा (नाबाद 49) की 99 रन की अटूट साझेदारी से असम ने झारखंड के खिलाफ दूसरे दिन स्टंप्स तक दो विकेट पर 126 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली।

दूसरे दिन के खेल खत्म होने के बाद असम की टीम पहली पारी के आधार पर झारखंड से 218 रन पीछे है और उसके आठ विकेट शेष है। असम के 27 रन पर दो विकेट गिरने के बाद शिवशंकर और गोकुल ने धैर्य से बल्लेबाजी करते हुए टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। वरुण आरोन और आशीष कुमार ने झारखंड के लिए एक-एक विकेट लिए।

इससे पहले तेज गेंदबाज मुख्तार हुसैन की घातक गेंदबाजी से झारखंड की पहली पारी 344 रन पर सिमट गई। झारखंड ने दिन की शुरूआत छह विकेट पर 266 रन से आगे से किया लेकिन मुख्तार ने बचे हुए चारों विकेट लेकर उन्हें बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया। मुख्तार ने 77 रन देकर पांच विकेट लिए। झारखंड के लिए उत्कर्ष सिंह ने 76 और युवा हरफनमौला अनुकूल रॉय ने 80 रन का योगदान दिया।

हिमांशु का शतक, हरियाणा के तीन विकेट पर 239 रन

हिमांशु राणा के नाबाद शतक और चैतन्य बिश्नोई के अर्धशतकों से हरियाणा ने ग्रुप सी मुकाबले के दूसरे दिन ओडिशा के खिलाफ स्टंप तीन विकेट पर 239 बना लिए। दिन का खेल समाप्त होने तक राणा 113 और प्रमोद चंदीला 34 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए हैं। राणा ने अपनी नाबाद शतकीय पारी के दौरान 162 गेंद का सामना कर 17 चौके लगाए।

ओडिशा ने सुबह छह विकेट पर 232 रन से आगे खेलना शुरू किया। शांतनु मिश्रा ने 30 रन को अर्धशतक में तब्दील करते हुए 71 रन बनाए, इससे पूरी टीम 324 रन पर आल आउट हो गई। टीनू कुंडे ने हरियाणा के लिये चार विकेट चटकाए। हरियाणा की टीम अब भी पहली पारी के हिसाब से 85 रन से पीछे है लेकिन उसके अभी सात विकेट बाकी हैं।

 उप्र को गोवा पर 321 रन की बढत

मोहम्मद सैफ और अक्षदीप नाथ के शतकों की मदद से उत्तर प्रदेश ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी के मैच में गोवा के खिलाफ तीन विकेट पर 473 रन बना लिए। गोवा की टीम पहले दिन पहली पारी में 152 रन पर आउट हो गई थी।

मेजबान उत्तर प्रदेश ने अपने कल के स्कोर एक विकेट पर 153 रन से आगे खेलना शुरू किया। सैफ ने 250 गेंद में 14 चौकों की मदद से 126 रन बनाए। वहीं नाथ 154 रन बनाकर खेल रहे हैं। उन्होंने अपनी पारी में 254 गेंदों का सामना करके 13 चौके और एक छक्का लगाया।

प्रियम गर्ग 114 गेंद में 82 रन बनाकर क्रीज पर हैं। उन्होंने गोवा के गेंदबाजों को मैदान के चारों ओर धुनते हुए अपनी पारी में नौ चौके लगाए। सैफ और नाथ ने दूसरे विकेट के लिए 143 रन जोड़े जबकि नाथ ने गर्ग के साथ तीसरे विकेट के लिए 123 रन की साझेदारी की। उत्तर प्रदेश के पास अब 321 रन की बढत है जबकि उसके सात विकेट बाकी हैं।

मिजोरम पर पारी की हार का खतरा

मिजोरम ने प्लेट ग्रुप में जारी मैच में दूसरे दिन अपनी दूसरी पारी में स्टम्प्स तक दो विकेट के नुकसान पर 16 रन बनाए। नागालैंड क्रिकेट स्टेडियम में जारी इस मैच में मिजोरम की टीम नागालैंड की ओर से पहली पारी में बनाए गए कुल रन संख्‍या से 408 रन पीछे है।

मिजोरम की पहली पारी 106 रनों पर ही सिमट गई थी। इसके बाद, नागालैंड ने अपनी पहली पारी में आठ विकेट के नुकसान पर 530 रनों पर घोषित कर दी।

नागालैंड को इस स्कोर तक पहुंचाने में अबरार काजी (नाबाद 200) के दोहरे शतक ने अहम भूमिका निभाई। इसके अलावा, कप्तान रोंगसेन जोनाथन ने 72, मुघावी वोत्सा ने 58 और इमलीवती लेमतुर ने 50 रनों का योगदान दिया।

मिजोरम के लिए पहली पारी में मोइया ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए। इसके अलावा, अखिल राजपूत और जी लालबियाकवेला ने दो-दो विकेट लिए।

दूसरी पारी खेलने उतरी मिजोरम ने दिन का खेल समाप्त होने तक 16 रनों के स्कोर पर अपने दो विकेट भी गंवा दिए। टीम के लिए कप्तान मिशेल लालरेमकीमा (6) और सी लालरिनसांगा (0) नाबाद हैं।

अरुणाचल ने मेघालय के खिलाफ दूसरी पारी में 104 रन पर 6 विकेट

प्लेट ग्रुप में शिलांग के मेघालय क्रिकेट एसोसिएशन क्रिकेट ग्राउंड पर जारी एक अन्य मैच में अरुणाचल प्रदेश ने अपनी दूसरी पारी में छह विकेट के नुकसान पर 104 रन बना लिए हैं। अरुणाचल ने मेघालय पर कुल 129 रनों की बढ़त बना ली है।

अरुणाचल प्रदेश ने मेघालय की पहली पारी 141 रनों पर समेट दी। इसमें लिचा तेही, सुभाष शर्मा और संदीप ठाकुर ने तीन-तीन विकेट लेकर अहम भूमिका निभाई। इसके बाद दिन का खेल समाप्त होने तक अरुणाचल प्रदेश ने क्षितिज शर्मा (41) की मदद से छह विकेट गंवाते हुए 104 रन बनाए। टीम के लिए कामशा योंगफो (22) और शोएब (0) नाबाद हैं।

मणिपुर की पहली पारी 70 रन पर सिमटी

कोलकाता के जाधवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस-2 ग्राउंड पर जारी मैच में मणिपुर की पहली पारी 70 रनों पर सिमट गई। सिक्किम के गेंदबाज ईश्वर चौधरी ने सबसे अधिक चार विकेट लिए।

मणिपुर की पारी समेटने में बिपुल शर्मा ने तीन विकेट और ली योंग लेपचा ने दो विकेट लेकर अहम योगदान दिया। इसके बाद सिक्किम ने शुक्रवार को मिलिंद कुमार (261) की दोहरे शतक के दम पर मणिपुर के खिलाफ 372 रनों का स्कोर खड़ा किया। इसमें बिपुल ने भी 45 रनों का योगदान दिया। इसके अलावा, टीम का कोई भी बल्लेबाज अधिक देर तक मैदान पर नहीं टिक पाया।

मणिपुर की ओर से शैले शोर्य ने चार और रेक्स सिंह ने तीन विकेट लिया।

दिन का खेल समाप्त होने तक मणिपुर ने शुक्रवार को नाबाद रहे लखन रावत (62) और कप्तान यशपाल सिंह (48) की बल्लेबाजी के दम पर दो विकेट गंवाकर 123 रन बना लिए हैं। वह अब भी सिक्किम से 170 रन पीछे है।

उत्तराखंड ने बिहार को 10 विकेट से हराया

उत्तराखंड की टीम ने रणजी ट्रॉफी में जीत से आगाज किया है। पहली बार रणजी ट्रॉफी में खेल रही उत्तराखंड ने प्लेट ग्रुप के एकतरफा मुकाबले में बिहार को 10 विकेट से हरा दिया।

मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को उत्तराखंड के गेंदबाजों ने बिहार को दूसरी पारी में 169 रनों पर ही ऑल आउट कर दिया। बिहार ने अपनी पहली पारी में महज 60 रन बनाए थे।

उत्तराखंड ने अपनी पहली पारी में 227 रन बनाए थे। इस कारण उत्तराखंड को दूसरी पारी में महज तीन रनों का लक्ष्य मिला। करण कौशल ने पहली ही गेंद पर चौका जड़ उत्तराखंड को 10 विकेट से जीत दिला दी।