इंडिया ए टीम एक सप्ताह बाद न्यूजीलैंड का दौरा करेगी। इस दौरे से पहले इंडिया ए टीम को युवा ओपनर पृथ्वी शॉ के रूप में तगड़ा झटका का लग सकता है जो रणजी ट्रॉफी 2019-20 ग्रुप बी मुकाबले में शुक्रवार को कर्नाटक के खिलाफ अपना कंधा चोटिल करा बैठे.

साल 2020 का पहला शतक ऑस्ट्रेलिया के नाम, वॉर्नर-स्मिथ नहीं बल्कि इस बल्लेबाज ने मारी बाजी

मुंबई की ओर से खेल रहे पृथ्वी को ये चोट फील्डिंग के दौरान लगी. बांद्रा कुर्ला कॉम्पलेक्स ग्राउंड पर खेले जा रहे इस मुकाबले के तीसरे सेशन में रन रोकने के प्रयास में पृथ्वी ने डाइव लगाई जिससे उनका दायां कंधा चोटिल हो गया. इसके तुरंत बाद उन्हें मैदान से बाहर ले जाया गया.

नहीं चला अजिंक्य रहाणे और पृथ्वी शॉ का बल्ला, 41 बार की चैंपियन मुंबई 194 रन पर ढेर

इंडिया ए टीम 10 जनवरी, 2020 को न्यूजीलैंड के लिए रवाना होगी. उन्हें टीम इंडिया में लिमिटेड और चार दिवसीय मैचों की सीरीज के लिए चुना गया है. मुंबई टीम के सूत्र ने बताया कि एहतियातन उनका एमआरआई स्कैन कराया गया है.

8 महीने बाद की थी वापसी 

डोप टेस्ट में फेल होने के कारण 8 महीने का बैन झेल चुके 20 वर्षीय दाएं हाथ के बल्लेबाज पृथ्वी ने हाल मेें वापसी की थी. पिछले साल (2019) 22 फरवरी को इंदौर में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान पृथ्वी शॉ के यूरिन का सैंपल लिया गया था जिसमें प्रतिबंधित पदार्थ पाया गया था। ये टेस्ट बीसीसीआइ ने अपने एंटी डोपिंग प्रोग्राम के तहत कराया था.

‘फिजियो से पूछने के बाद पता चलेगा कि आखिर क्या स्थिति है’

वह (शॉ) बेहतर दिख रहे थे. मैदान पर वह ठीक नहीं दिख रहे थे लेकिन अब वह बेहतर दिख रहे हैं. बाद में फिजियो से पूछने के बाद पता चलेगा कि आखिर क्या स्थिति है.’- सूर्यकुमार यादव, कप्तान, मुंबई

गौरतलब है कि पहली पारी में पृथ्वी ने 57 गेंदों पर 29 रन की पारी खेली जिसमें 6 चौके शामिल थे. मुंबई की टीम पहली पारी में 194 रन पर ढेर हो गई. जवाब में कर्नाटक ने 79 रन पर 3 विकेट गंवा दिए थे.