Ravindra Jadeja is happy to repay Virat Kohli’s faith by good performance
रविंद्र जडेजा (Twitter/CSK)

वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट के लिए भारतीय प्लेइंग इलेवन में स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन को मौका ना दिए जाने से कई क्रिकेट समीक्षक हैरान हुए थे। लेकिन उनकी जगह टीम में शामिल हुए ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने अपने प्रदर्शन से टीम मैनेजमेंट और कप्तान विराट कोहली के उन पर जताए भरोसे को सही साबित किया।

जडेजा ने एंटीगा टेस्ट में 112 गेंदो पर 58 रनों की अहम पारी खेली। रिषभ पंत के जल्दी आउट होने के बाद उन्होंने तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के साथ मिलकर आठवें विकेट 60 रनों की साझेदारी बनाई और भारत को 297 के स्कोर तक पहुंचाया।

जडेजा ने कहा कि उन्हें खुशी है कि वो कप्तान के विश्वास का ऋण अच्छे प्रदर्शन से चुका पाए। दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा, “जाहिर सी बात है कि जब कप्तान आप पर भरोसा दिखाता है, आपको मुख्य खिलाड़ी मानता है तो अच्छा लगता है। खुशकिस्मती से मैं उस भरोसे का ऋण अच्छे प्रदर्शन से चुका पाया।”

सौरव गांगुली ने कहा- खिलाड़ियों को लगातार मौके दें विराट कोहली

अपनी पारी के बारे में बात करते हुए जडेजा ने कहा, “जब मैं बल्लेबाजी कर रहा था तो मैं केवल साझेदारी बनाने के बारे में सोच रहा था। मेरा ध्यान पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ खेलने पर था। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहा था। जब रिषभ आउट हुआ तो मैं इशांत से टिककर खेलने और साझेदारी बनाने की बात कर रहा था। हम एक समय पर एक ओवर के बारे में सोच रहे थे। विपक्षी टीम के लिए ये अच्छा नहीं होता जब निचला क्रम बल्लेबाज रन बनाता है, इसलिए यही हमारी योजना थी।”

अर्धशतकीय साझेदारी बनाने के बाद जडेजा ने इशांत के साथ गेंदबाजी अटैक संभाला। जहां इशांत शर्मा ने आगे से मोर्चा संभाला। उन्होंने शानदार पांच विकेट हॉल लिया, जिसकी बदौलत विंडीज ने 189 पर 8 विकेट खो दिए। इशांत की गेंदबाजी के बारे में जडेजा ने कहा, “इशांत ने अच्छी गेंदबाजी की। उसने अपने ओवर में जो दो कैच पकड़े वो कमाल थे और मुझे लगता है कि वो टर्निंग प्वाइंट थे।”

उन्होंने आगे कहा, “इस विकेट पर आपको सही एरिया में गेंदबाजी करनी होती है। हर ओवर के साथ इशांत की लय सुधरती चली गई। अगर वो अपने ओवर में वो दो कैच नहीं पकड़ता को स्थिति अलग होती। उन दो विकेटों ने खेलके मूमेंटम को हमारे पक्ष में लाने में मदद की।”

एंटीगा टेस्ट: इशांत के ‘पंच’ से मेजबान वेस्टइंडीज बैकफुट पर

तीसरे दिन एंटीगा की पिच का रुख कैसा रहेगा इस बारे में भारतीय स्पिनर ने कहा, “मैंने इशांत और बुमराह दोनों से बात की। हमें पता था कि अगर हम अपने डिफेंस और तकनीकि पर भरोसा जताएंगे तो हम क्रीज पर टिके रह सकते हैं। विकेट पर उछाल है और गेंद हरकत कर रही है। जैसे जैसे खेल आगे बढ़ेगा, विकेट सेटल होता जाएगा लेकिन उछाल तो रहेगा और ये तेज गेंदबाजों की मदद करेगा।”