Sachin Tendulkar advised son Arjun not to adopt ‘shortcut’ in life and Career
अर्जुन तेंदुलकर (Getty images)

महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने कहा है कि उन्होंने अपने करियर में कभी ‘शार्टकट’ नहीं लेने की अपने पिता की सलाह पर हमेशा अमल किया और अब यही सलाह उन्होंने अपने बेटे अर्जुन तेंदुलकर को भी दी है।

सचिन के बेटे अर्जुन ने हाल ही में टी20 मुंबई लीग में हिस्सा लिया जहां उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने आकाश टाइगर्स मुंबई पश्चिम उपनगर टीम ने पांच लाख रूपये में खरीदा था। अर्जुन ने शनिवार को वानखेड़े स्टेडियम पर सेमीफाइनल भी खेला।

ये पूछने पर कि क्या वो अपने बेटे को दबाव का सामना करने के लिए कोई सीख देते हैं, सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मैंने कभी उस पर किसी चीज के लिए दबाव नहीं डाला। मैने उस पर क्रिकेट खेलने का दबाव नहीं बनाया। वो पहले फुटबाल खेलता था, फिर शतरंज और अब क्रिकेट खेलने लगा।’’

दक्षिण अफ्रीकी प्लेइंग इलेवन में जगह को लेकर परेशान नहीं हैं हाशिम अमला

उन्होंने कहा, ‘‘मैने उससे यही कहा कि जीवन में जो भी करो, शार्टकट मत लेना। मेरे पिता (रमेश तेंदुलकर) ने भी मुझे यही कहा था और मैने अर्जुन से यही कहा। तुम्हे मेहनत करनी पड़ेगी और फिर तुम पर निर्भर करता है कि कहां तक जाते हो।’’ उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि दूसरे माता पिता की तरह वो भी चाहते हैं कि उनका बेटा अच्छा प्रदर्शन करे।