Sarah Taylor: When I’m in a good place mentally you will see it on the field
Sarah Taylor © Getty Images

भारत दौरे पर होने वाली वनडे सीरीज के जरिए जुलाई 2018 के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी कर रही इंग्लैंड की विकेटकीपर बल्लेबाज सारा टेलर का कहना है कि वो खेल के लिए मानसिक तौर पर तैयार हैं। टेलर ने मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या के चलते आईसीसी टी20 विश्व से अपना नाम वापस ले लिया था।

टेलर ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, “मुझे लगता है कि मेरी जिंदगी में मेरे मानसिक स्वास्थ्य और क्रिकेट करियर के बीच अच्छा संतुलन है। मुझे लगता है कि मैंने अभी तक दोनों ही पक्षों में कुछ बहुत ज्यादा अच्छा नहीं किया है लेकिन अगर मैं मानसिक तौर पर स्वस्थ्य हूं तो मै आप उसका नतीजा मैदान पर भी देखोगे।”

ये भी पढ़ें: सूजी बेट्स का मैनविनिंग अर्धशतक, रोमांचक मैच में 4 विकेट से हारा भारत

इंग्लिश विकेटकीपर बल्लेबाज ने आगे कहा, “मैं हमेशा उस तरह की खिलाड़ी रही हूं कि अगर मैं मानसिक तौर पर अच्छी जगह पर हूं तो अच्छा खेलूंगी। अगर मैं मानसिक रूप से सही हूं तो मुझे पता है कि इससे मुझे फायदा होगा क्योंकि मैं क्रिकेट खेलते समय इसकी चिंता नहीं करूंगी। मैं सिर्फ पूरा ध्यान क्रिकेट पर केंद्रित कर सकती हूं। मुझे उम्मीद है कि अब मुझे संतुलन सही मिल गया है और क्रिकेट अपना ध्यान रख सकता है।”

सारा ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड और सपोर्ट स्टाफ का भी शुक्रिया किया। उन्होंने कहा, “मैं ईसीबी की शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने मुझे फैसला लेने दिया। ये मेरा फैसला था और ये अच्छा एहसास है। पिछले तीन महीने मेरे लिए ऐसे रहे कि ‘मैं ये करना चाहूती हूं’ और इससे मुझे फायदा होगा ना कि ‘आप मुझसे क्या करवाना चाहते हैं’।”

ये भी पढ़ें:  भारत दौरे के लिए इंग्लैंड टीम में सारा और कैथरीन को जगह

ड्रेसिंग रूम के माहौल के बारे में टेलर ने कहा, “ये घड़ी की सुई की तरह काम करता है। कोच को पता है कि क्या कहना है और क्या नहीं। हमारी मनोवैज्ञानिक अविश्वसनीय है: वो मुझसे पहले नोटिस कर लेती है कि मुझे क्या परेशानी है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं अच्छे दिन या बुरे दिन में हूं।”