Source: (IANS)
Source: (IANS)

श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो के मैदान पर खेले गए चौथे वनडे मैच में एक पल को ऐसा लगा कि जैसे मैदान पर सचिन तेंदुलकर लौट आए हों। दरअसल ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि इस मैच के साथ डेब्यू करने वाले शार्दुल ठाकुर जिस जर्सी को पहनकर मैदान पर उतरे उसका नंबर 10 था।

गौरतलब है कि सचिन तेंदुलकर की जर्सी का नंबर भी 10 हुआ करता था। सचिन ने साल 2012 में वनडे क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। तबसे अबतक कई खिलाड़ियों ने डेब्यू किया लेकिन किसी ने इस नंबर की जर्सी नहीं पहनी। लेकिन ठाकुर ने इस जर्सी को पहनकर मैदान पर उतरते ही सालों पुरानी उन खूबसूरत यादों को तरोताजा कर दिया।

शार्दुल ठाकुर से मैच के बाद पूछा गया कि क्यों उन्होंने 10 नंबर की जर्सी को चुना तो उन्होंने कहा, “मेरी बर्थ डेट का टोटल 10 है इसलिए मैंने अपनी जर्सी का नंबर 10 रखा है।” गौरतलब है कि शार्दुल का जन्म 16 अक्टूबर 1991 को हुआ था।

वैसे 10 नंबर की जर्सी शार्दुल के लिए लकी भी रही। शार्दुल ने मैच में टीम इंडिया की गेंदबाजी का आगाज किया और अपने दूसरे ही ओवर में पहला वनडे विकेट झटक लिया। शार्दुल ने श्रीलंका के विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला को धोनी के हाथों कैच आउट करा अपना पहला विकेट झटका। [भारत बनाम श्रीलंका, चौथा वनडे, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें]

 

आखिरकार शार्दुल ने 7 ओवरों में 26 रन देकर 1 विकेट झटका। शार्दुल पिछले एक साल से टीम इंडिया में शामिल होते रहे हैं लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल होने का मौका नहीं मिला था। आखिरकार शार्दुल को उनके सब्र और कड़ी मेहनत का फल मिल ही गया और उन्हें श्रीलंका के खिलाफ चौथे वनडे से पहले प्लेइंग इलेवन में जगह मिली। टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने शार्दुल ठाकुर को वनडे कैप सौंपी। शार्दुल भारत के 218वें वनडे खिलाड़ी हैं।