Sourav Ganguly: Australia tour is opportunity for Virat Kohli to stamp his name among the greatest captains
Virat Kohli (File Photo) @ Getty Images

एडिलेड में गुरुवार को पहला टेस्‍ट मैच शुरू होने के साथ ही विराट कोहली की बतौर कप्‍तान परीक्षा भी शुरू हो जाएगी। पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली का मानना है कि ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर विराट कोहली के पास भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे महान कप्‍तानों में अपना नाम शुमार कराने का मौका है।

पढ़े:-  विदेशी दौरे पर कहर ढा रही है इशांत, शमी और बुमराह की तिकड़ी

इंडिया टीवी के कार्यक्रम के दौरान सौरव गांगुली ने कहा, “ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर अगर भारत को टेस्‍ट सीरीज जीतनी है तो केवल विराट कोहली को ही नहीं बल्कि बाकी खिलाड़ियों को भी रन बनाने होंगे। केवल विराट कोहली के भरोसे ही हम ऑस्‍ट्रेलिया में टेस्‍ट सीरीज नहीं जीत सकते हैं।”

टॉस जीतकर करें बल्‍लेबाजी का फैसला

सौरव गांगुली ने विराट कोहली को सलाह दी है कि टॉस जीतने पर वो पहले बल्‍लेबाजी करने का निर्णय ही लें। गांगुली ने कहा, “इससे फर्क नहीं पड़ता की ऑस्‍ट्रेलिया में किस प्रकार की कंडीशन हैं। अगर आप टॉस जीतें तो आपको पहले बल्‍लेबाजी लेनी ही होगी। पहले खेलकर आपको बड़ा स्‍कोर बनाने का मौका मिलेगा। बल्‍लेबाजी में कमजोर ऑस्‍ट्रेलिया के सामने बड़ा स्‍कोर बनाकर आप उनपर दबाव बना सकते हो।”

पहली पारी में 400 रन बनाना है जरूरी

सौरव गांगुली ने कहा, “मेरा हमेशा से ही ये मानना है कि उपमहाद्वीप के बाहर अगर आप पहली पारी के दौरान 400 रन नहीं बनाते हो तो आप मैच नहीं जीत सकते हो। हम विराट से उम्‍मीद नहीं कर सकते हैं कि वो हर टूर पर चार शतक बनाएगा।”

पढ़े:- सौराष्‍ट्र के कप्‍तान जयदेव शाह ने किया संन्‍यास का ऐलान

सौरव गांगुली ने केएल राहुल को सलाह दी है कि वो अंदर आती हुई गेंद पर थोड़ा सावधान रहें क्‍योंकि यही वो डिलीवरी है जिसपर वो अधिकतर आउट होते हैं। एक बार वो पिच पर सेटल हो जाता है तो फिर 50-60 रन बनाए बिना नहीं रुकता।