South Africa vs Zimbabwe, 1st T20: Faf du Plessis introduces specialist coin tosser
Faf du Plessis © Instagram

क्रिकेट में अपनी टीम को जिताने के लिए अक्‍सर फैन्‍स तरह-तरह के टोटके अपनाते हैं। साउथ अफ्रीका के कप्‍तान फॉफ डु प्‍लेसिस ने भी अपना गुड लक वापस पाने के लिए एक नई तरकीब अपनाई। जिम्‍बाब्‍वे की टीम इस वक्‍त साउथ अफ्रीका के दौरे पर है। नौ अक्‍टूबर र को दोनों टीमों के बीच सीरीज का पहला टी-20 मैच खेला गया।

मार्च-अप्रैल के महीने में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई टेस्‍ट सीरीज के बाद से ही साउथ अफ्रीका के कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस ने कोई टॉस नहीं जीता है। इस दौरान सभी फॉर्मेट को मिलाकर वो छह मैचों में कप्‍तानी कर चुके हैं। पहले टी-20 मुकाबले में टॉस जीतने के लिए फाफ डु प्‍लेसिस ने इसकी जिम्‍मेदारी साथी खिलाड़ी जेपी डुमिनी को दे दी। खास बात ये है कि डुमिनी इस मैच में प्‍लेइंग इलेवन का हिस्‍सा नहीं थे, लेकिन फिर भी वो टॉस के लिए आए।

फाफ डु प्‍लेसिस का ये टोटका काम आया और टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करने का फैसला किया। साउथ अफ्रीका ने इस मैच में 34 रनों से जीत दर्ज की। इस बारे में डु प्‍लेसिस ने बेहद हल्‍के अंदाज में कहा, “एक कप्‍तानी की सबसे बड़ी खासियत ये होती है कि उसे अपनी कमजोरियों के बारे में पता हो। मैंने जेपी डुमिनी को इस मैच में विशेष रूप ये टॉस के लिए ही बुलाया।”

 

उन्‍होंने बाद में सोशल मीडिया पर लिखा, “मैंने जो भी किया उससे मैं काफी खुश हूं। मैदान पर क्रिकेट के साथ-साथ कुछ मौज मस्‍ती भी होनी चाहिए, खासतौर पर टी-20 क्रिकेट में ऐसा होना चाहिए। हमने कुछ ऐसा ही इस मैच में करने का प्रयास किया।”

बता दें कि आईसीसी के नियमों में ये स्‍पष्‍ट नहीं है कि केवल कप्‍तान ही टॉस के लिए मैदान में आ सकता है। जिसका फायदा उठाते हुए फाफ डु प्‍लेसिस ने इस तरह मस्‍ती की।