तेज गेंदबाज मिशेल मैक्लेनाघन (Mitchell McClenaghan) पाकिस्तान का दौरा रद्द करने के बाद आलोचना झेल रहे न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड के पक्ष में उतरे। उन्होंने कहा कि कीवी टीम का पाकिस्तान दौरा रद्द करने के लिए खिलाड़ियों को दोष नहीं देना चाहिए क्योंकि उन्होंने केवल अपनी सरकार की सलाह पर ये काम किया।

मैक्लेनाघन का ये बयान पाकिस्तान दौरा रद्द करने पर बल्लेबाज मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) के व्यंग्यात्मक ट्वीट के बाद आया। हफीज ने शनिवार को सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान का दौरा रद्द करने के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट की खिल्ली उड़ायी थी।

हफीज ने ट्वीट किया था, ‘‘न्यूजीलैंड की टीम को हवाई अड्डे तक सुरक्षित पहुंचाने की व्यवस्था करने के लिए पाकिस्तान के सुरक्षा बलों का आभार। वही रास्ता है और वही सुरक्षा है लेकिन हैरानी है कि आज कोई खतरा नहीं है।’’

जवाब में मैक्लेनाघन ने ट्वीट किया, ‘‘सच्चाई स्वीकार करो भाई। आपके ट्वीट से सही संदेश नहीं जा रहा है। खिलाड़ियों या संगठन को दोष मत दो… हमारी सरकार को दोष दो। उन्हें जो सलाह मिली उन्होंने (खिलाड़ियों और न्यूजीलैंड क्रिकेट) केवल उस पर अमल किया। मुझे पक्का विश्वास है कि ये युवा खिलाड़ी खेलना चाहते थे और स्वयं को साबित करना चाहते थे। उनके पास कोई विकल्प नहीं था।’’

न्यूजीलैंड की टीम 11 सितंबर को पाकिस्तान पर पहुंची थी। ये 18 सालों में उसका पाकिस्तान का पहला दौरा था जिसमें उसे तीन वनडे और पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने थे। लेकिन न्यूजीलैंड क्रिकेट ने शुक्रवार को पहले वनडे मैच से पूर्व पाकिस्तान का दौरा रद्द कर दिया था। इसका कारण उसने टीम की सुरक्षा को गंभीर खतरा बताया था।