भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज किरण मोरे ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की जमकर तारीफ की है. मोरे का कहना है कि महेंद्र सिंह धोनी के किरदार को निभाने के लिए सुशांत ने एक क्रिकेटर की तरह ट्रेनिंग की थी. धोनी की बायोपिक के लिए सुशांत को विकेटकीपिंग की ट्रेनिंग मोरे ने दी थी.

मोरे ने कहा कि इस युवा अभिनेता की मौत से एक बेहतरीन यात्रा अधूरी रह गई. सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार की सुबह मुंबई में खुदकुशी कर ली. वह 34 साल के थे.

धोनी के जीवन पर बनी फिल्म में सुशांत को ट्रेनिंग देने वाले मोरे ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘मैं बस यही दो शब्द कह सकता हूं कि यह चौंकाने वाली खबर है जिस पर विश्वास नहीं हो रहा. जब आप इतनी युवा प्रतिभा के साथ काम करते हो तो आप यही सवाल पूछते हो कि क्यों हुआ ऐसा? उसने यह कदम क्यों उठाया?’

उन्होंने कहा, ‘हमने एक प्यारा बच्चा, कर्मठ, शिक्षित और सफल व्यक्ति को गंवा दिया. उसने उस भूमिका के लिए लगातार नौ महीने तक अभ्यास किया. उसने धोनी के हेलीकॉप्टर शॉट में महारत हासिल की. वह क्रिकेटर की तरह ट्रेनिंग करता था.’

‘एक शानदार सफर अधूरा रह गया’

राष्ट्रीय चयन समिति के पूर्व चेयरमैन ने कहा, ‘विकेटकीपिंग बहुत अलग होती है. उसे कई बार हाथों, बाजुओं और जांघ में गेंद लगी लेकिन वह हमेशा खेलने के लिये तैयार रहता था. एक शानदार सफर अधूरा रह गया.’

मोरे ने साथ ही कोविड-19 महामारी के समय में मानसिक स्वास्थ्य की अहमियत पर जोर देते हुए कहा, ‘मानसिक रूप से हमें मजबूत होना चाहिए, विशेषकर इस समय चीजें जिस तरह से चल रही हैं. हमें अपने परिवार और दोस्तों से अच्छा रिश्ता बनाए रखने की जरूरत है.’