Syed Kirmani said that selectors need to make a tough call on Virat Kohli
Virat Kohli

भारतीय क्रिकेट में इन दिनों सबसे बड़ी चर्चा का विषय है विराट कोहली की खराब फॉर्म जो खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कोहली की फॉर्म को लेकर फैंस ही नहीं बल्कि दिग्गज क्रिकेटर भी अपने बयानों से पूर्व कप्तान की जमकर आलोचना कर रहे हैं। इस कड़ी में अब पूर्व भारतीय विकेटकीपर सैयद किरमानी का नाम भी जुड़ गया है। सैयद किरमानी ने कहा है कि मौजूदा वक्त में टीम में कड़ी प्रतिस्पर्धा और अगर आप रन नहीं बनाते है तो आप कितने भी अनुभवी क्यों न हों, सिलेक्शन कमेटी को कठोर फैसला लेना ही होगा।

इंडिया टुडे से बातचीत में किरमानी ने कहा, “चयनकर्ताओं को बड़ा फैसले लेने की जरूरत है। उन्हें कोहली को घरेलू क्रिकेट में कुछ रन बनाने और लय को हासिल करने के लिए कहना चाहिए। आज के समय में बहुत प्रतिस्पर्धा है। यदि आप कुछ पारियों में प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं, भले ही आप कितने भी अनुभवी हों, चयन समिति को कहना होगा कि ‘बस हो गया। घरेलू क्रिकेट में वापस जाओ। फॉर्म हासिल करें और फिर हम देखेंगे कि क्या आप भारतीय टीम में वापस आने के काबिल हैं। यह मत देखिए कि ये विराट कोहली पर क्यों लागू नहीं हो सकता।”

किरमानी से पहले 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव भी लंबे समय से लय के लिए जूझ रहे विराट कोहली की आलोचना कर चुके हैं। कोहली लगभग तीन साल से बड़ी पारी खेलने के लिए जूझ रहे हैं। कपिल ने एबीपी न्यूज से कहा, “अगर आप टेस्ट के दूसरे सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज अश्विन को टीम से बाहर बैठा सकते है तो विश्व का नंबर एक खिलाड़ी भी बाहर बैठ सकता है। मैं चाहता हूं कि कोहली रन बनाए लेकिन इस समय विराट कोहली उस तरह से नहीं खेल रहे है जिनको हम जानते है। उन्होंने अपने प्रदर्शन के दम पर अपना नाम बनाया है और अगर वह प्रदर्शन नहीं करेंगे तो नए खिलाड़ियों को आप बाहर नहीं रख सकते है।’’

बता दें, विराट कोहली की खराब फॉर्म का सिलसिला इंग्लैंड में भी जारी है। एजबेस्टन में खेले गए टेस्ट मैच की दोनों पारियों में कोहली के बल्ले से सिर्फ 31 रन आए थे। वहीं, T20I सीरीज में भी पूर्व कप्तान के बल्ले से 1 और 11 रन आए थे। हालांकि चोट के कारण उन्हें वनडे सीरीज के पहले मैच में खेलने का मौका नहीं मिला।