The Ashes 2019: Tim Paine expressed regret over DRS against England
Tim Paine @AFP (file image)

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने स्वीकार किया कि पांचवें एशेज टेस्ट में दो बार डीआरएस (अंपायरों की समीक्षा प्रणाली) का इस्तेमाल नहीं करना निराशाजनक है क्योंकि दोनों से ही उन्हें विकेट मिल सकते थे।

पढ़ें: पांड्या की वापसी से मजबूत होगी भारतीय बल्लेबाजी: वीवीएस लक्ष्मण

इंग्लैंड की टीम सीरीज 2-2 से बराबर करने की कोशिश में हैं और अंतिम टेस्ट में 382 रन की बढ़त बनाकर नियंत्रण बनाए है जबकि दो दिन बाकी हैं और उसके दूसरी पारी में दो विकेट भी बचे हैं।

शनिवार को मैच के तीसरे दिन ओवल में पेन की गलतफहमी के कारण ऑस्ट्रेलियाई टीम को नुकसान ही हुआ। जो डेनली जब 54 रन पर थे, तब वह मिशेल मार्श की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट होते लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने नॉटआउट के फैसले की समीक्षा नहीं करने का विकल्प चुना और उन्होंने 94 रन बनाए।

पढ़ें: भारत-दक्षिण अफ्रीका मैच में इन खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

बाद में कप्तान और विकेटकीपर पेन ने जोस बटलर को एलबीडब्ल्यू की अपील पर नॉटआउट के फैसले की समीक्षा नहीं कराने का फैसला किया जबकि रिप्ले में दिख रहा था कि नेथन लियोन की गेंद पर स्टंप हिट करती। बटलर तब 19 रन पर थे और उन्होंने 47 रन बनाए।

पेन ने कहा, ‘मैं फैसला नहीं कर पाया। पता नहीं और क्या कहूं। हमारे लिये यह दुस्वप्न की तरह था। हमने गलत निर्णय लिया।’
उन्होंने कहा, ‘यह मुश्किल काम है, मैंने पूरी सीरीज के दौरान यही कहा है।’