These are rumours and I will let it go: Prithvi Shaw on ‘indiscipline’ speculations
Prithvi-Shaw @AFP

युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने उन अटकलबाजियों को खारिज किया है जिनमें कहा जा रहा था कि उन्हें ऑस्ट्रेलियाई दौरे से अनुशासहीनता के कारण भेजा गया था।

पढ़ें: इतिहास रचने से चूके रहमत शाह, 142 रनों की बढ़त पर अफगानिस्तान

पृथ्‍वी ने जोर देकर कहा कि ऐसा उनके टखने की चोट से उबरने में देरी होने के कारण ही हुआ था। पृथ्वी को अभ्यास मैच में क्षेत्ररक्षण करते हुए चोट लग गई थी और शुरू में कहा गया था कि वह तीसरे टेस्ट के बाद उपलब्ध रहेंगे।

लेकिन 19 वर्षीय खिलाड़ी को वापस भेज दिया गया था और यह माना जा रहा है कि ऐसा इस युवा खिलाड़ी के ध्यान कहीं और लगाने के कारण किया गया था।

पढ़ें: पृथ्वी शॉ के ऑस्ट्रेलिया दौरे का धमाकेदार आगाज, जमाया अर्धशतक

पृथ्वी ने शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के मीडिया सत्र के दौरान कहा, ‘ये सब अफवाहें हैं, इसलिए मैं इन पर ध्यान नहीं दूंगा।’

जब उनसे पूछा गया कि रिहैबिलिटेशन के दौरान वह इतनी कड़ी मेहनत नहीं कर रहे थे तो पृथ्वी ने कहा, ‘किसी ने भी मुझे इस बारे में नहीं बताया कि मैं कड़ी मेहनत नहीं कर रहा। मैं खेलना चाहता था लेकिन चोटिल हो गया। मुझे लगा कि मैं मेलबर्न में तीसरे टेस्ट में खेल सकता हूं लेकिन चोट से उबरने की प्रक्रिया में प्रगति धीमी थी।’