Vinod Rai respond to MS Dhoni balidan badge saga during World Cup
MS Dhoni (File Photo) @ AFP

वर्ल्‍ड कप 2019 के दौरान महेंद्र सिंह धोनी द्वारा ग्‍लव्‍स पर बलिदान बैज लगाने को लेकर खूब हंगामा हुआ। शुरुआत में बीसीसीआई ने इसका समर्थन किया, लेकिन बाद में धोनी को इसे ग्‍लव्‍स से हटाना पड़ा। बीसीसीआई सीओए विनोद राय ने इसके पीछे की वजह के बारे में इंडियन एक्‍सप्रेस से खुलकर बात की।

पढ़ें:- नवंबर तक भारतीय जर्सी में नहीं दिखेंगे महेंद्र सिंह धोनी

विनोद राय ने कहा, “वो कोई मुद्दा नहीं था। जो उन्‍होंने अपने ग्‍लब्‍स पर लगाया था वो बलिदान बैज नहीं था। हां, लेकिन उन्‍होंने कोई चिन्‍ह्र जरूर लगाया था। उस समय मुझे इस संबंध में आईसीसी के नियम नहीं पता थे। मैं भी आश्‍चर्यचकित रह गया था। मैंने कहा था कि अगर वो कुछ पहनना चाहते हैं तो वो ऐसा करने के लिए स्‍वतंत्र हैं। मैंने उनका समर्थन किया।”

उन्‍होंने कहा, “बाद में मुझे 11 पेज के आईसीसी के नियम दिखाए गए। जिसमें बताया गया है कि आप केवल अपनी टीम का चिन्‍ह्र ही कपड़ों पर लगा सकते हो और वो भी निर्माता द्वारा लगाया गया हो। ऐसे में हमें उसे हटाना ही था।”

भारत-पाक वर्ल्‍ड कप मैच पर क्‍या बोले विनोद रॉय ?

पुलवाना अटैक के बाद वर्ल्‍ड कप में पाकिस्‍तान के खिलाफ खेलने के सवाल पर विनोद राय ने विस्‍तृत जवाब दिया। उन्‍होंने कहा, “क्‍या हम पाकिस्‍तान के खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने देते हैं ? नहीं। भारत को पाकिस्‍तान के खिलाफ विश्‍व कप में 16 जून को खेलना था। भारतीय मीडिया में इस तरह की खबरें चलने लगी कि हमें पाकिस्‍तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहिए। कुछ मीडिया चैनल यह भी चलाने लगे कि बीसीसीआई को इस मैच से काफी कमाई होगी, जिसके चलते वो वर्ल्‍ड कप में पाकिस्‍तान के खिलाफ खेलने पर अड़ा है।”

पढ़ें:- रिषभ पंत का बल्लेबाजी क्रम बदलकर उनका दबाव कम किया जा सकता है: अजीत अगरकर

IND vs SA Dream11 Team

उन्‍होंने कहा, “मैं किसी टीवी एंकर का नाम नहीं लेना चाहता हूं। उस वक्‍त मेरी प्रतिक्रिया थी कि अगर हम पाकिस्‍तान के खिलाफ नहीं भी खेलते हैं तो हमें एक या दो प्‍वाइंट का नुकसान होगा, लेकिन सेमीफाइनल में अगर पाकिस्‍तान से भिड़ंत होती है तो फिर क्‍या कहोगे। ये अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारने जैसा होगा। लिहाजा मैंने इसकी बजाए आईसीसी के समक्ष पाकिस्‍तान को अलग थलग करने की मांग की थी।”