ऑस्ट्रेलिया की महिला विकेटकीपर बल्लेबाज एमिली स्मिथ (Emily Smith) को सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट करने का खामियाजा भुगतना पड़ा है.

एमिली ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया जिसे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने भ्रष्टाचार रोधी नीति का उल्लंघन मानते हुए उन्हें महिला बिग बैश लीग (WBBL) से बैन कर दिया है. एमिली इस लीग में होबार्ट हरिकेंस की ओर से बतौर विकेटकीपर खेलती हैं.

ICC T20I Ranking: रोहित-राहुल को बड़ा नुकसान, गेंदबाजों की रैंकिंग में भारत फिसड्डी

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट के अनुसार, ‘एमिली ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया जो दो नवंबर को बर्नी के वेस्ट पार्क में खिलाड़ियों और मैच अधिकारियों के लिए सीमित क्षेत्र में बनाया गया था और इसमें सिडनी थंडर के खिलाफ हरिकेंस की प्लेइंग इलेवन की भी जानकारी थी.’

माना जा रहा है कि प्लेइंग इलेवन का इस्तेमाल मैचों पर सट्टेबाजी और नकद पुरस्कार देने वाली ‘फेंटसी’ लीग के लिए किया जा सकता था.

जहीर खान ने मुंबई इंडियंस की गेंदबाजी डिपार्टमेंट को मजबूत करने की दी सलाह

सीए ने बयान में पुष्टि की कि यह वीडियो मैच शुरू से एक घंटा पहले डाला गया. यह मैच हालांकि बारिश के कारण एक भी गेंद फेंके बिना रद्द हो गया और इसमें टास भी नहीं हो पाया.

एमिली सजा स्वीकार की

एमिली ने भ्रष्टाचार रोधी संहिता के नियम 2.3.2 के उल्लंघन के लिए सजा स्वीकार कर ली है और वह एक साल तक क्रिकेट के किसी प्रारूप में हिस्सा लेने के लिए आयोग्य होंगी. इसमें से नौ महीने की सजा निलंबित है.

तीन महीने की सजा के कारण एमिली डब्ल्यूबीबीएल के बाकी सत्र से बाहर हो गई हैं और वह 50 ओवर की महिला राष्ट्रीय क्रिकेट लीग में भी नहीं खेल पाएंगी.