why arjun tendulkar did not got a chance in mumbai indians playing xi bowling coach shane bond reveals
arjun tendulkar @IPL

अर्जुन तेंदुलकर को मुंबई इंडियंस ने फरवरी में हुई प्लेयर्स की नीलामी में 30 लाख रुपये देकर खरीदा था। लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन में भी उन्हें कोई मैच खेलने का मौका नहीं मिला। पांच बार की चैंपियन टीम ने 10 टीमों के इस टूर्नमेंट में सिर्फ चार मैच जीते। इस सीजन में टीम ने टिम टेविड, रमनदीप सिंह, संजय यादव, कुमार कार्तिकेय जैसे कई खिलाड़ियों को मौका दिया। कई फैंस को लगता था कि अर्जुन तेंदुलकर को भी आजमाया जाना चाहिए था। फैंस का मानना था कि महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का यह बेटा आईपीएल की चुनौती के लिए तैयार है। लेकिन मुंबई इंडियंस के थिंक-टैंक का विचार ऐसा नहीं था।

22 साल के अर्जुन ने मुंबई के लिए दो टी20 मुकाबले खेले हैं। इसके अलावा वह टी20 मुंबई लीग में खेले हैं। अर्जुन के पास हालांकि अनुभव नहीं है लेकिन उन्हें मुंबई इंडियंस की टीम में शामिल करने की मांग सोशल मीडिया पर उठती रहती है।

वहीं मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच शेन बॉण्ड ने अर्जुन को मुंबई इंडियंस की टीम में जगह नहीं मिलने पर अपनी राय रखी है. न्यूजीलैंड के इस पूर्व पेसर का मानना है कि अर्जुन को अभी अपनी बल्लेबाजी और फील्डिंग पर काम करने की जरूरत है। उन्होंने जोर देकर कहा कि टीम में अपनी जगह बनाने के लिए अर्जुन को अपने हुनर को मांजना होगा।

बॉण्ड ने कहा, ‘उसे कुछ काम करने की जरूरत है। जब आप मुंबई जैसी टीम के लिए खेल रहे होते हैं तो दल में जगह बनाना अलग बात है लेकिन प्लेइंग इलेवन में जगह बनाना अलग बात है। उसे अभी काफी मेहनत और बेहतर होने की जरूरत है। जब आप इस स्तर पर खेलते हैं तो मैच गंवाने और जीतने में बहुत बारीक लकीर होती है। लेकिन साथ ही आपको अपनी जगह कमानी पड़ती है।’

बॉण्ड ने स्पोर्टसकीड़ा से कहा, ‘टीम में जगह बनाने से पहले अर्जुन को अपनी बल्लेबाजी और फील्डिंग पर काम करना होगा। उम्मीद है कि वह ऐसा करेगा और टीम में अपनी जगह बनाएगा।’

इससे पहले तेंदुलकर ने भी कहा था कि अर्जुन को अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए न कि प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने के बारे में सोचना चाहिए।