Will be very happy if Ravi Shastri continues says Virat Kohli
Ravi Shastri and Virat Kohli

भारतीय क्रिकेट टीम आईसीसी विश्व कप सेमीफाइनल में मिली हार को भुलाकर अब अगले दौरे पर जाने को तैयार है। टीम वेस्टइंडीज के साथ टी20, वनडे और टेस्ट सीरीज खेलने को रवाना होने वाली है। वनडे और टेस्ट में टीम में कोई खास बदलाव नहीं है लेकिन टी20 में कुछ नए चेहरों को मौका दिया गया है।

विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत की हार से हुई आलोचना के बाद भी भारतीय कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को कहा कि वह चाहते है कि रवि शास्त्री टीम के कोच बने रहें। टीम के कोचिंग स्टाफ का करार विश्व कप के बाद खत्म हो गया था लेकिन उन्हें 45 दिनों का विस्तार दिया गया है जो वेस्टइंडीज दौरे तक जारी रहेगा।

पढ़ें:- रोहित शर्मा और मेरे बीच मनमुटाव की खबरें झूठीं : कोहली

प्रशासकों की समिति (सीओए) ने टीम के कोचिंग स्टाफ को चुनने के लिए नई क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का गठन किया है जिसमें कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और शांथा रंगास्वामी हैं। कोहली ने कहा कि नई सीएसी ने अभी तक उनसे संपर्क नहीं किया हैे।

कप्तान ने कहा, “सीएसी ने अभी तक मुझसे कोई संपर्क नहीं किया है। रवि भाई के साथ हमने अच्छा काम किया है। सीएसी अगर मुझसे मेरी राय मांगेगी तो मैं दूंगा लेकिन अभी तक मुझसे कुछ पूछा नहीं गया है।”

पढ़ें:- कोहली को कप्तान बनाए रखने पर सुनील गावस्कर ने उठाए सवाल

भारतीय टीम के मुख्य कोच के लिए साक्षात्कार 13 या 14 अगस्त को होगा। इसके लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 30 जुलाई है।

ऐसी खबरें थी कि कोच और कोचिंग स्टाफ के चयन में इस बार कप्तान की भागेदारी नहीं रहेगी। चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में कोच अनिल कुंबले ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद रवि शास्त्री की नियुक्ति हुई थी। तब सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण की सलाहकार समिति ने शास्त्री को कोच पद के लिए चुना था।