World Cup Final: James Neesham childhood coach died when he hit six in super over
James Neesham (File Photo) @ AFP

न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर जिम्मी नीशाम जब इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप फाइनल के सुपर ओवर में छक्का लगाकर टीम को जिताने की कोशिश कर रहे थे, तब उनके हाई स्कूल के शिक्षक और शुरूआती कोच डेविड गोर्डन ने आखिरी सांसें ले रहे थे।

पढ़ें:- विंडीज दौरे के लिए भारतीय चयन समिति की बैठक टली, ये है वजह 

सुपर ओवर में न्यूजीलैंड को जीत के लिये 16 रन चाहिये थे। स्कोर बराबर रहने के बाद चौकों छक्कों की गिनती के आधार पर टीम हार गई। गोर्डन की बेटी लियोनी ने कहा कि उनके पिता उस समय अस्पताल में थे।

उन्होंने स्टफ डाट काम डाट एनयू से कहा ,‘‘ आखिरी ओवर में और सुपर ओवर में एक नर्स भीतर आई तो उसने बताया कि उनकी सांस की गति बदल रही है  मुझे लगता है कि जब नीशाम ने वह छक्का जड़ा, तब उन्होंने आखिरी सांस ली।’’

पढ़ें:- VIDEO: चोटिल धवन ने युवी का चैलेंज पूरा करने के लिए उठाया बल्‍ला

नीशाम ने गुरूवार को ट्वीट किया ,‘‘ डेव गार्डन, मेरे हाई स्कूल शिक्षक, कोच और दोस्त। खेल के प्रति आपका प्यार अनुकरणीय था खासकर उन खुशकिस्मत लोगों के लिये जो आपके मार्गदर्शन में खेले। उम्मीद है कि उस मैच में हमारे प्रदर्शन पर आपको गर्व हुआ होगा। धन्यवाद  ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे।’