भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज और वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस (Mumbai  Indians) के गेंदबाजी कोच जहीर खान (Zaheer Khan) को इस बात से ज्यादा परेशानी नहीं है कि कोविड-19 महामारी  (COVID-19 Pandemic)के कारण क्रिकेटरों को ‘नई दिनचर्या’अपनानी होगी क्योंकि उनका मानना है कि यह सिर्फ आदी होने की बात है.

‘इस प्रोटोकॉल में अंतिम चीज सबसे ज्यादा मुश्किल हिस्सा है’

इस नई दिनचर्या में पृथकवास, जैव सुरक्षित ट्रेनिंग शिविर, हाथों को स्वच्छ रखना, नियमित रूप से तापमान देखना और गेंद पर लार के इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध शामिल है.  जहीर ने माना कि इस प्रोटोकॉल में अंतिम चीज सबसे ज्यादा मुश्किल हिस्सा है.

पूर्व भारतीय पेसर ने आईपीएल का जिक्र करते हुए कहा, ‘मैं नहीं कहूंगा कि यह इतना मुश्किल होगा, यह सिर्फ नई दिनचर्या के आदी होने की बात है.  तैयारियों की दिनचर्या बदलेगी और आपको इसका पालन करना होगा. वापसी करना और फिर से मैदान पर जाना अच्छा लग रहा है.’

‘हमें इसका ध्यान रखना होगा’

उन्होंने कहा, ‘हमें सतर्क रहना होगा कि हम लार (Saliva) का इस्तेमाल नहीं करें क्योंकि गेंदबाजों के लिये पुरानी आदतें बीच बीच में आ जाती हैं.  हमें इसका ध्यान रखना होगा.  ’

मुंबई इंडियंस (MI) ने अपने प्रत्येक खिलाड़ी को एक ‘जिप बैग’दिया है जिसमें उसे अपनी ट्रेनिंग गेंद रखनी होगी ताकि स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन किया जा सके.  जहीर ने मुंबई इंडियंस द्वारा पोस्ट किये गए ट्विटर वीडियो संदेश में कहा, ‘जब आप पेशेवर एथलीट हो तो आपको ऐसी मानसिक स्थिति बनाने का तरीका ढूंढना होगा जिसमें आप रहना चाहते हो.  यह सभी के लिए अलग होती है और उसे यह जगह बनानी होती है.’

आईपीएल के 13वें एडिशन का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक यूएई में होगा.