मुंबई इंडियंस बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स  © BCCI
मुंबई इंडियंस बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स © BCCI

आज रात के 8 बजे दिल्ली डेयरडेविल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल 2017 का 45वां मैच खेला जाएगा। मौजूदा समय में पिछले दो मैचों में दो जीत दर्ज करने के साथ ही दिल्ली डेयरडेविल्स छठवें स्थान पर है वहीं मुंबई इंडियंस टूर्नामेंट में आठ जीतों के साथ पहले नंबर पर बरकरार है। दिल्ली डेयरडेविल्स को अगर यहां से अंतिम चार में जगह बनानी है तो उन्हें अगले चार में से कम से कम तीन मैच जीतने होंगे। वे अपने तीन मैच अपने घर पर खेलने वाले हैं, जिसमें मौजूदा मैच भी शामिल है। दूसरी ओर मुंबई पहले नंबर पर काबिज है, जाहिर है वे चाहेंगे कि वे पहले नंबर पर रहते हुए ही अंतिम चार में प्रवेश करें।

पिछले दिनों जहीर खान ने संकेत दिए थे कि वह टीम में वापसी कर सकते हैं। हालांकि, इसकी तस्वीर अभी पूरी तरह से साफ नहीं है। पिछले मैच में ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस नहीं खेले थे। वह इस मैच के साथ मैदान पर वापसी कर सकते हैं। इस सीजन के अंतिम मैच के लिए वह उपलब्ध होंगे। ये समझा जा सकता है कि रबाडा और मॉरिस 7 मई को अपने देश रवाना हो जाएंगे। ऐसे में इस मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स एक सुनियोजित योजना के साथ उतरना चाहेगी। गुरुवार को गुजरात लायंस के खिलाफ मैच में दिल्ली के बल्लेबाजों ने बेहतरीन बल्लेबाजी के साथ छक्कों की बरसात कर दी थी। पंत को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने से दिल्ली को फायदा हो रहा है। ऐसे में वे एक बार फिर से पंत को उसी क्रम में भेजना चाहेंगे।

वहीं शनिवार को जब वे मुंबई से भिड़ेंगे तो उनका ध्यान सिर्फ जीत हासिल करने पर होगा। मुंबई ने अपने पिछले नौ मैचों में से 8 जीते हैं और अबतक बेहतरीन खेल दिखाया है। मुंबई के लिए हर मैच में उनका नया खिलाड़ी हीरो साबित हुआ है। ऐसे में इस बार कौन बड़ा योगदान देता है ये देखना दिलचस्प होगा। जाहिर है कि मुंबई को हराना दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए कतई आसान नहीं होने वाला और वे अंतिम चार में पहुंचने के लिए उनकी राह का सबसे बड़ा रोड़ा हैं। मुंबई इंडियंस की गेंदबाजी लाजवाब है जिसने कई टीमों को पिछले मैचों में दिन में तारे दिखाए हैं और इस बात को दिल्ली डेयरडेविल्स से बेहतर कौन जान सकता है जिन्होंने पहले तो मुंबई को छोटे स्कोर पर रोक दिया था लेकिन बाद में मुंबई की गेंदबाजी ने उन्हें सिर नहीं उठाने दिया।

लेकिन कोटला में खेले गए पिछले दो मैचों के परिणामों को देखें तो पता चलता है कि इस पिच पर बल्लेबाजों की चांदी रहने वाली है। वहीं पहली पारी में स्पिनर भी अहम भूमिका निभा सकती है। मुंबई इंडियंस भी अपनी नौंवी जीत टूर्नामेंट में दर्ज करना चाहेगी जिसके साथ उनकी प्ले ऑफ में जगह तय हो जाएगी। मुंबई इंडियंस के लिए अच्छी बात यह है कि हरभजन सिंह फिट हो चुके हैं और उनकी जगह टीम में कर्ण शर्मा की जगह बनेगी। वहीं दिल्ली टीम में क्रिस मॉरिस वापसी कर सकते हैं। वह टीम में मर्लोन सैम्युअल्स की जगह लौटेंगे।

इस पिच पर जो भी टीम टॉस जीतेगी पहले गेंदबाजी करने का फैसला कर सकती है ताकि पिच में स्पिनरों को मिलने वाली मदद का फायदा उठा सके।

दिल्ली डेयरडेविल्स की संभावित प्लेइंग इलेवन: संजू सैमसन, करुण नायर(कप्तान), ऋषभ पंत(विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, कोरे एंडरसन, क्रिस मॉरिस, कागीसो रबाडा, पैट कमिंस, अमित मिश्रा, मोहम्मद शमी, शाहबाज नदीम/जयंत यादव।

मुंबई इंडियंस की संभावित प्लेइंग इलेवन: जोस बटलर, पार्थिव पटेल(विकेटकीपर), नीतीश राणा, रोहित शर्मा(कप्तान), कायरॉन पोलार्ड, क्रुणाल पांड्या, हार्दिक पांड्या, हरभजन सिंह, मिचेल मैकलेनिघन, जसप्रीत बुमराह, लसिथ मलिंगा।

क्या कहेत हैं आंकड़े: इन दोनों टीमों के बीच अब तक खेले गए 19 मैचों में मुंबई ने 10 और दिल्ली ने 9 मैच जीते हैं। हालांकि, कोटला में मुंबई 2011 के खिलाफ कोई जीत हासिल नहीं कर पाई है।