युवराज , विराट और धोनी © AFP
युवराज , विराट और धोनी © AFP

टी20 विश्व कप में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच कल खेले गए बेहद अहम् मुकाबले में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। मोहाली में कल खेले गए बेहद रोमांचक मैच में विराट कोहली ने एक बार फिर विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिलाई। विराट ने एक बार फिर समझबूझ के साथ खेलते हुए टीम इंडिया को जीत दिलाई उनका साथ कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी बखूबी निभाया। धोनी ने एक बार फिर विनिग शॉट लगाते हुए टीम को जीत दिलाई। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को 161 रनों की चुनौती दी। जिसे टीम इंडिया ने 5 गेंद शेष रहते ही 4 विकेट खोकर पूरा कर लिया। आइए जानते हैं कल खेले गए बेहद रोमांचक मुकाबले में टीम इंडिया के जीत के कारण

विराट की विस्फोटक बल्लेबाजी– भारतीय टीम के रन मशीन विराट कोहली ने एक बार फिर अपने बेहतरीन बल्लेबाजी के बदौलत टीम इंडिया को जीत दिलाई और टीम को सेमीफाइनल में पहुचाया। विराट मैच में अंत तक टिके रहे और टीम के लिए 51 गेंदों में 9 चौकों और 2 छक्कों की साथ 82 रन बनाए। विराट ने एक छोर से अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी को जारी रखा और महत्वपूर्ण 82 रन बनाए। इसके साथ ही साथ विराट ने टी20 करियर में अपनी 15वां अर्द्धशतक भी पूरा किया। कोहली ने अपनी इस शानदार पारी को तीन सर्वश्रेष्ठ पारियों में  से एक बताया। कोहली के इस शानदार पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

विराट- युवी की साझेदारी– टीम इंडिया के दोनों सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन के जल्दी आउट हो जाने के बाद विराट और युवराज सिंह ने बेहद सूझबूझ के साथ संभलकर खेलते हुए 45 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी की जो कि टीम को जीत दिलाने में अहम् था। युवी ने 21 रन और कोहली ने 22  रनों का योगदान दिया।

भारतीय गेंदबाजी– टी20 विश्व कप के अब तक के मैचों में भारतीय गेंदबाजों ने धारदार गेंदबाजी की है जिसके बदौलत टीम इंडिया मैच जीत कर सेमीफाइनल में जगह बना सकी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कल खेले गए मैच में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने शुरू के ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 4 ओवर में 53 रन बना डाले थे। भारतीय अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने अपने तीसरे ओवर में उस्मान ख्वाजा को धोनी के हाथों कैच आउट करा कर टीम को पहली सफलता दिलाई। जिसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने समय पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को पवेलियन की ओर भेजना शुरू कर दिया। पांड्या ने खतरनाक बल्लेबाज एरन फिंच को आउट किया। स्पिन गेंदबाजों ने भी कल खेले गए मैच में अपना सफल प्रदर्शन किया। अश्विन और युवी ने वार्नर और स्मिथ को जल्दी आउट करके पवेलियन की राह दिखाया। इस तरह टीम इंडिया ने कंगारुओं को 160 रन के स्कोर पर रोक दिया।

कोहली और धोनी– कल खेले गए मैच में टीम इंडिया के ओपनर बल्लेबाज रोहित और शिखर ने टीम के लिए कोई बड़ा रन नही सके। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने महज 49 रन पर 3 विकेट विकेट झटक लिए थे। लेकिन विराट ने एक ओर रन बनाते रहे। विराट ने पहले युवी के साथ मिल कर टीम के लिए साझेदारी की। युवी के आउट हो जाने के बाद विराट ने धोनी के साथ मिलकर 67 रनों की सबसे लम्बी साझेदारी की जिसके बदौलत टीम इंडिया को जीत मिली। धोनी ने नाबाद 18 रन 10 गेंदों में बनाए जिसमें 3 चौके भी शामिल है।