विराट कोहली © AFP (File photo
विराट कोहली © AFP (File photo

साल 2016 अपने अंतिम पड़ाव की ओर अग्रसर है। इस साल की नंबर एक टेस्ट टीम के रूप में भारतीय टीम बरकरार है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने इस साल बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया और तीन दोहरे शतक जड़ दिए। गौर करने वाली बात है कि कोहली के ये तीनों दोहरे शतक भारतीय टीम की जीत में आए हैं। लेकिन क्या ये सब बातें विराट कोहली को साल 2016 का सबसे बेहतरीन बल्लेबाज बनाती हैं। आज हम इसी बात की विवेचना कर रहे हैं। तो आइए जानते हैं साल 2016 के टॉप 10 बल्लेबाजों के बारे में।

10. केन विलियमसन: न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन इस लिस्ट में 10वें नंबर पर हैं। साल 2016 विलियमसन के लिए मिला- जुला रहा। इस साल उन्होंने कुल 10 टेस्ट मैच खेले जिनमें 18 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 753 रन बनाए। इस दौरान उनका रन बनाने का औसत 47.06 रहा। और वह एक शतक व 3 अर्धशतक जड़ने में ही कामयाब हो पाए। साल के अंत में जब वह भारत दौरे पर आए तो वह अश्विन के सामने लगातार जूझे यही कारण रहा कि उन्हें इस लिस्ट में दसवां स्थान मिल रहा है। इस दौरान विलियमसन का सर्वोच्च स्कोर 113 रन रहा था।

9. चेतेश्वर पुजारा: भारतीय टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के लिए इस साल शुरुआत खराब हुई थी जब वह वेस्टइंडीज सीरीज में जूझते नजर आए थे। लेकिन जैसे ही वह स्वदेश लौटे उनके बल्ले ने कहर बरपा दिया। इस साल उन्होंने कुल 11 मैच खेले जिनमें 16 पारियों में 55.73 की औसत से 836 रन बनाए। पुजारा ने इस दौरान कुल तीन शतक और चार अर्धशतक जमाए। पुजारा इस साल भारतीय टीम की ओर से सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लबाज हैं। [ये भी पढ़ें: रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल मैच, पहला दिन, लाइव ब्लॉग]

8. बेन स्टोक्स: इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स इस साल टेस्ट क्रिकेट में रन बनाने के मामले में आठवें नंबर पर हैं। स्टोक्स ने इस साल कुल 12 टेस्ट मैचों की 21 पारियों में 45.20 की औसत से 904 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने दो शतक और तीन अर्धशतक जमाए। गौर करने वाली बात है कि अंडर-50 में शामिल सभी बल्लेबाजों के बीच स्टोक्स के नाम सबसे ज्यादा छक्के हैं। इस साल उन्होंने 21 छक्के जड़े हैं। स्टोक्स भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के तीसरे सफल बल्लेबाज रहे।

7. स्टीवन स्मिथ: ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ साल 2016 में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में सातवें स्थान पर हैं। स्मिथ ने इस साल 10 टेस्ट मैचों की 17 पारियों में 60.93 की औसत से 914 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने तीन शतक पांच अर्धशतक जड़े। स्मिथ इस साल कोई दोहरा शतक जड़ने में कामयाब नहीं हो पाए और 138 रन उनका सर्वोच्च स्कोर रहा। इस साल टॉप 10 में शामिल स्मिथ अकेले ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज हैं।

6. अजहर अली: पाकिस्तान के अजहर अली इस लिस्ट में छठवें नंबर पर है। अजहर ने इस साल खेले कुल 10 टेस्ट मैचों की 20 पारियों में बल्लेबाजी की और 52.77 की औसत से 950 रन बनाए। इस साल अजहर अली का तिहरा शतक 302* रन खूब छाया रहा। जिसको लेकर उनकी तुलना दुनिया के कई बड़े- बड़े क्रिकेटरों से की जाने लगी थी। लेकिन ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड सीरीज में अजहर का बल्ला जैसे कुंद हो गया और यही कारण रहा कि वह छठवें नंबर पर खिसक गए। उनके नाम इस साल तीन शतक और पांच अर्धशतक रहे। इस लिस्ट में वह अकेले पाकिस्तानी क्रिकेटर हैं।

5. मोईन अली: भारत के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज में धमाल मचाने वाले मोईन अली इस लिस्ट में पांचवें नंबर पर हैं। इस साल खेले कुल 17 टेस्ट मैचों में उन्होंने 29 पारियों में बल्लेबाजी की और 46.86 की औसत से 1,078 रन बनाए। मोईन ने इस साल कुल चार शतक और पांच अर्धशतक जड़े। गौर करने वाली बात है कि वह इस साल टेस्ट में तीसरे सबसे ज्यादा छक्के जड़ने वाले बल्लेबाज हैं। इस दौरान उनका सर्वोच्च स्कोर 155* रहा। भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अकेले उन्होंने दो शतक जड़े।

4. विराट कोहली: भारतीय टीम के मिस्टर भरोसेमंद विराट कोहली इस लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं। इस साल उन्होंने कुल 12 मैच खेले जिनमें 18 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 75.93 की औसत से 1,215 रन बना डाले। इस दौरान कोहली ने चार शतक और दो अर्धशतक जमाए। कोहली ने इस साल तीन दोहरे शतक भी जमाए और उनका सर्वोच्च स्कोर 235 रहा जो उन्होंने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में बनाया था। विराट कोहली की कप्तानी में इस साल टीम इंडिया एक भी मैच नहीं हारी और नंबर एक रही।  

3. एलिस्टेयर कुक: इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक के लिए भले ही भारत- इंग्लैंड सीरीज खराब रही हो। लेकिन इस साल उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में खूब रन बटोरे। इस साल उन्होंने 17 टेस्ट मैच खेलते हुए 33 पारियों में 42.33 की औसत से 1,270 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने दो शतक और सात अर्धशतक जमाए। कुक को इस साल का आईसीसी टेस्ट ऑफ द ईयर भी चुना गया है।

2. जॉनी बेयरेस्टो: इंग्लैंड के मध्यक्रम के बल्लेबाज जॉनी बेयरेस्टो इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। भारत के खिलाफ सीरीज में मिलाजुला प्रदर्शन करने वाले बेयरेस्टो ने 17 मैचों की 29 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए कुल 1,470 रन बनाए। इस दौरान उनका रन बनाने का औसत 58.80 का रहा। इतने रन उन्होंने जरूर बनाए लेकिन उनका औसत विराट कोहली के औसत से आस- पास भी नहीं है। बेयरेस्टो ने इस साल कुल तीन शतक और आठ अर्धशतक जमाए। अंडर- 10 में बेयरेस्टो इस साल टेस्ट में सर्वाधिक छक्के जमाने वाले बल्लेबाजों के मामले में तीसरे नंबर पर हैं। बेयरेस्टो का इस साल सर्वोच्च स्कोर 167* रहा।

1. जो रूट: इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज जो रूट इस लिस्ट में शीर्ष पर हैं। जाहिर है कि अगर जो रूट के इतने मैच कोहली खेलते तो वही नंबर एक पर होते, बजाय जो रूट के। इस साल रूट ने कुल 17 मैच खेले जिसकी 32 पारियों में 49.23 की औसत से 1477 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने तीन शतक और 10 अर्धशतक जड़े। उनका सर्वोच्च स्कोर 254 रहा। इस तरह रूट ने नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज के साथ साल अपने नाम किया।